CM शिवराज का बड़ा बयान, कहा बेटियों की पूजा से शुरू होंगे सरकारी कार्यक्रम

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वाधीनता दिवस की वर्षगांठ पर महिला और बेटी के सम्मान का संकल्प लेते हुए एलान किया है.

CM शिवराज का बड़ा बयान, कहा बेटियों की पूजा से शुरू होंगे सरकारी कार्यक्रम

भोपाल: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने स्वाधीनता दिवस (Independence Day) की वर्षगांठ पर महिला और बेटी के सम्मान का संकल्प लेते हुए एलान किया है कि प्रदेश में बेटियां की पूजा से ही सभी सरकारी आयोजन प्रारंभ होंगे. राज्य का प्रमुख समारोह कोरोना (Coronavirus) संक्रमण को रोकने के सभी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए मोती लाल नेहरु स्टेडियम में आयोजित किया गया. इस समारोह में चौहान ने एलान किया कि राज्य में अब सरकारी कार्यक्रम बेटियों की पूजा के साथ शुरू होंगे.

उन्होंने कहा कि बेटियों का कल्याण प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है. प्रदेश में लाडली लक्ष्मी योजना (Ladli Laxmi Yojana) के अंतर्गत 78 हजार से अधिक ई-सर्टिफिकेट जारी किए गए हैं. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत 5 लाख से अधिक हितग्राहियों के बैंक खातों में 84 करोड़ रुपये से अधिक राशि डाली गई है. इसके अलावा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना भी संचालित की जा रही है.

इस दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की कार्यशैली की सराहना करते हुए कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में शक्तिशाली भारत का निर्माण हो रहा है. अब यह वर्ष 1962 का भारत नहीं है. यदि किसी शत्रु ने भारत की ओर आंख उठाकर देखा तो उसे सबक सिखाने में भारत पीछे नहीं रहेगा.

ये भी पढ़ें:- ड्रैगन के घर में भारत ने सुनाई खरी-खरी, चीन से कही ये बात

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने शहीद सैनिकों के परिवार को एक करोड़ रुपये की राशि, परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा और भूखंड प्रदान करने का निर्णय लेकर बलिदानियों के प्रति सम्मान का भाव प्रदर्शित किया.

चौहान ने भारत के रक्षा बलों के सामथ्र्य की चर्चा करते हुए कहा कि देश की सीमा पर अतिक्रमण करने का दुस्साहस करने वालों को हमारे वीर सैनिकों ने अपने प्राणों की परवाह न कर मुंहतोड़ जवाब दिया. भारतीय सेना के गौरवशाली इतिहास के इस महत्वपूर्ण अध्याय में मध्यप्रदेश के रीवा जिले के फरेंदा गांव के सैनिक दीपक सिंह ने मातृभूमि की रक्षा के लिए अपने प्राणों का उत्सर्ग किया.

ये भी पढ़ें:- अरविंद केजरीवाल ने कहा, कल मैं अपना बर्थडे नहीं मनाऊंगा, लेकिन लोगों से ये गिफ्ट चाहिए 

कोरोना के संक्रमण का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में सही समय पर लिए गए सुविचारित निर्णयों के परिणाम स्वरूप भारत ने कोरोना संक्रमण से बचाव की दिशा में प्रभावी कार्य किया. मोदी मैन ऑफ द आइडियाज हैं. कठिन चुनौती भरे समय को अवसर के रूप में लेते हुए उन्होंने आत्म-निर्भर भारत का जो मंत्र दिया है उस पर प्रदेश तेज गति से चल रहा है.

राज्य में कोरोना से निपटने के प्रयासों का ब्यौरा देते हुए मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, "कोविड की आपदा से निपटने के लिए सरकार ने समाज के सहयोग से आई़ आई़ टी टी अर्थात् 'आईडेंटीफाई, आयसोलेट, टेस्ट एण्ड ट्रीट' की रणनीति बनाकर उस पर अमल किया. प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान अत्यावश्यक वस्तुओं और सेवाओं की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित की गई, वहीं दूसरी तरफ चिकित्सा सामग्री एवं अन्य आवश्यक उपकरण जैसे दवाएं, मास्क, ग्लब्स, पीपीई किट्स, अक्सीजन सिलेंडर, वेंटीलेटर्स, टैस्टिंग लेबोरेटरी और टैस्टिंग किट्स आदि की पर्याप्त उपलब्धता रखी गई.

LIVE TV