close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पश्चिम बंगाल: ममता बनर्जी का दावा- राज्यपाल ने BJP के इशारे पर बुलाई दलों की बैठक

ममता बनर्जी ने कहा कि केसरीनाथ त्रिपाठी ने उन्हें बैठक में हिस्सा लेने के लिए बुलाया था लेकिन उन्होंने मना कर दिया क्योंकि कानून-व्यवस्था राज्य का विषय है, राज्यपाल का नहीं.

पश्चिम बंगाल: ममता बनर्जी का दावा- राज्यपाल ने BJP के इशारे पर बुलाई दलों की बैठक
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को दावा किया कि राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने बीजेपी के इशारे पर राज्य में चुनाव के बाद हुई हिंसा के मद्देनजर चार मुख्य दलों की बैठक बुलाई है. तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि केसरीनाथ त्रिपाठी ने उन्हें बैठक में हिस्सा लेने के लिए बुलाया था लेकिन उन्होंने मना कर दिया क्योंकि कानून-व्यवस्था राज्य का विषय है, राज्यपाल का नहीं.

ममता बनर्जी ने कहा, ‘वे (राज्यपाल) बीजेपी के प्रवक्ता की तरह हैं. बीजेपी ने उन्हें सर्वदलीय बैठक कराने के लिए कहा और उन्होंने ऐसा किया.’ उन्होंने कहा,‘उन्होंने (त्रिपाठी) मुझे भी बुलाया था. लेकिन, मैंने कहा कि मैं नहीं जा सकती क्योंकि आप राज्यपाल हैं और मैं निर्वाचित सरकार हूं. कानून-व्यवस्था राज्य का विषय है. यह आपका विषय नहीं है. ’

ममता बनर्जी ने कहा कि राज्यपाल एक कप चाय या शांति बैठक के लिए लोगों को बुला सकते हैं. ‘यही कारण है कि मैं वहां पार्टी प्रतिनिधि भेज रही हूं. वह जाएंगे और चाय पीकर आ जाएंगे.’

बीजेपी ने किया है राज्यपाल के फैसले का स्वागत
बता दें पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के एन त्रिपाठी ने राज्य में चुनाव के बाद हो रही हिंसा के मद्देनजर गुरुवार को प्रमुख राजनीतिक दलों की एक बैठक बुलाई है. बीजेपी राज्यपाल के इस फैसले का स्वागत किया है.

इस पहल का स्वागत करते हुए पश्चिम बंगाल बीजेपी इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि राज्य सरकार को यह पहल करनी चाहिए थी. उन्होंने कहा,‘हम फैसले का स्वागत करते हैं. हमें त्रिपाठी का पत्र मिला. हम कल की बैठक में शामिल होंगे.’ 

 

तृणमूल महासचिव पार्थ चटर्जी, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष, कांग्रेस और माकपा के प्रदेश प्रमुख राजभवन में बैठक में हिस्सा लेने वाले हैं.