close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुजरात: बनासकांठा में बस खाई में गिरी, 21 यात्रियों की मौत, PM मोदी ने जताया दुख

इस हादसे में 21 यात्रियों की मौत सूचना है. बताया जा रहा है कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) ने ट्वीट कर दुख जताया है और मृतकों के परिजनों के लिए सांत्वना प्रकट किया है. 

गुजरात: बनासकांठा में बस खाई में गिरी, 21 यात्रियों की मौत, PM मोदी ने जताया दुख
गुजरात के बनासकांठा अम्बाजी के नजदीक बस हादसा.

अहमदाबाद: गुजरात (Gujarat) के बनासकांठा (Banaskantha) अम्बाजी के नजदीक सोमवार को एक लग्जरी बस खाई में गिर गई. इस हादसे में 21 यात्रियों की मौत सूचना है. बताया जा रहा है कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) और गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट करके दुख जताया है और मृतकों के परिजनों के लिए सांत्वना प्रकट किया है. अम्बाजी त्रिशूलिया घाट के पास बस खाई में गिरी. इस बस में 60 से ज्यादा यात्रियों के सवार होने की बात कही जा रही है. दुर्घटना में कई लोगों के हताहत होने की आशंका जताई जा रही है. दुर्घटना स्थल पर 108 की टीम और पुलिस पहुंची पुलिस और स्थानीय लोगों की मदद से यात्रियों का रेस्क्यू करने का प्रयास जारी है.

सूचना के मुताबिक आणद के खडोल, पुन्दंन, असोदर, काभाईपुरा सहित कई अलग-अलग इलाकों में रहने वाले लोग करीब 60 नवरात्र में अंबाजी के दर्शन के लिए गए निकले थे. अंबाजी दर्शन करने के बाद वापस लौटते  समय त्रिशूलिया घाट के पास तेज बारिश की वजह से बस स्लिप होकर पलट गई. इस हादसे में 14 पुरुष, 3 महिलाएं और 4 बच्चों सहित 21 लोगों की मौत हो गई है. इस हादसे में लगभग 39 से ज्यादा घायल हुए हैं.

लाइव टीवी देखें-:

पीएम ने ट्वीट कर जताया दुख
पीएम मोदी ने ट्वीट किया है, 'बनासकांठा से दुखद समाचार. मैं एक दुर्घटना के कारण जानमाल के नुकसान से बेहद पीड़ित हूं. दु:ख की इस घड़ी में, मेरे विचार शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. स्थानीय प्रशासन घायलों को हर संभव मदद मुहैया करा रहा है. जल्द ही वे ठीक हो सकते हैं.'

अमित शाह ने ट्वीट कर कहा है, 'गुजरात के बनासकांठा में दुखद बस दुर्घटना के कारण हुए जानमाल के नुकसान की खबर से गहरा दुख हुआ है. राज्य और स्थानीय अधिकारियों से बात की है. वे लोगों की मदद के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं. मैं गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं. घायलों को जल्द से जल्द ठीक किया जाए.'

आपको बता दें की इससे पहले 7 जून 2019 में इसी जगह त्रिशूलिया घाट पर एक जीप पलट गयी थी, जिसमें 9 लोगों की मौत हो गई थी और 25 लोग घायल हो गए थे, जो की अंबाजी अंतरशाह दरगाह के दर्शन करके लौट रहे थे.