close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुजरात सरकार का बड़ा फैसला, बिजली बिल पर बकाया 625 करोड़ रुपये माफ करेगी

गुजरात सरकार का 6.22 लाख बिजली कनेक्शन के ऊपर 625 करोड़ रुपये का बकाया है जो अब माफ कर दिया जाएगा.

गुजरात सरकार का बड़ा फैसला, बिजली बिल पर बकाया 625 करोड़ रुपये माफ करेगी
गुजरात के मुख्यमंत्री (फाइल फोटो)

गांधीनगर (संवाददाता, केतन जोशी): गुजरात सरकार ने मंगलवार को एक बड़ा एलान करते हुए कहा है की 'राज्य के 6.22 लाख बिजली कनेक्शन के बकाया बिल माफ किए जाएंगे. सरकार की इस घोषणा में घर के बिजली कनेक्शन, उद्योगों के बिजली कनेक्शन और खेती के बिजली कनेक्शन शामिल है. बता दें बता दें गुजरात सरकार का 6.22 लाख बिजली कनेक्शन के ऊपर 625 करोड़ रुपये का बकाया है जो अब माफ कर दिया जाएगा.

कुछ लोगों ने इनमें बिजली की चोरी की है, या तो ओवर लोड लिया है या फिर बिल का भुगतान नहीं किया है, इन सब को वन टाइम सेटलमेंट की धारा 126 और 135 के तहत सिर्फ 500 रुपये भर कर बाकी का बकाया माफ़ कर दिया जायेगा. इतना ही नहीं लेकिन जिस किसी का बिजली कनेक्शन काट लिया गया है उनको भी फिर से बहाल किया जाएगा. 

शहरी इलाको में जो बीपीएल के अंतर्गत आते है उनके बिजली बिल भी माफ होंगे. यह योजना मंगलवार से ही तक लागू होगी यानी कि आज के दिन किसी का बिल भुगतान नहीं हुआ है तो उनको यह योजना का लाभ मिलेगा साथ ही साथ यह योजना अगले 2 महीने तक चलेगी यानी कि 2 महीने तक लोग अपना बिल माफी की प्रक्रिया कर सकते हैं.

राहुल पर साधा मुख्यमंत्री ने निशाना
इससे पहले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर राफेल सौदे पर ‘देश को गुमराह करने’ का आरोप लगाते हुए मांग की कि वह अपने पद से इस्तीफा दें. रुपाणी ने कहा कि राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार को घसीटने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े इस मुद्दे को औजार बनाया.

मुख्यमंत्री राफेल सौदे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के आलोक में विपक्षी दल पर हमला करने के लिए देश के 70 शहरों में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने के बीजेपी के कदम के तहत भुवनेश्वर में बोल रहे थे. उन्होंने कहा,‘यदि सारे चोर इकट्ठा हो जाएं और चौकीदार को चोर कहें तो भी लोग इसे नहीं मानेंगे.’ उनका इशारा प्रधानमंत्री पर राहुल गांधी के प्रहार के संदर्भ में था.

विजय रुपाणी ने कहा,‘सुप्रीम कोर्ट का फैसला देश को गुमराह कर रही कांग्रेस और अन्य लोगों के मुंह पर तमाचा है . राहुल गांधी को देश को गुमराह करने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. ’

(इनपुट - भाषा)