close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CM गहलोत कहेंगे तो कांग्रेस को उपचुनाव जीता देंगे नहीं तो हरा देंगे- भंवरलाल मेघवाल

मंत्री मेघवाल ने कहा कि कांग्रेस में शेड्यूल कास्ट यानी कि मेघवाल जाती के वोट कांग्रेस को मास्टर भंवरलाल ही दिला सकते हैं लेकिन SC के काम नेता करते नहीं और गरीब शेड्यूल कास्ट को आगे आने नहीं देते.

CM गहलोत कहेंगे तो कांग्रेस को उपचुनाव जीता देंगे नहीं तो हरा देंगे- भंवरलाल मेघवाल

नरेन्द्र राठौड़, मंडावा: विधानसभा सीट पर हो रहे उप चुनाव को लेकर सामाजिक न्याय एंव अधिकारिता मंत्री ने बड़ा बयान दिया है. मंत्री मेघवाल ने मंडावा विधानसभा चुनावों को लेकर कहा कि मंडावा सीट पर अगर मुख्यमंत्री कहेंगे तो वहां की कांग्रेस प्रत्याशी को चुनाव जीता दूंगा नहीं तो चुनाव हरा दूंगा. उन्होंने यह बयान सुजानगढ़ विधानसभा के गोन्दूसर गांव में राउमावि में नवनिर्मित 3 कक्षाओं के लोकार्पण करने के बाद ग्रामीणों को सम्बोधत करते हुए दिया. 

मंत्री मेघवाल ने ग्रामीणों के बीच कहा कि उनके पास CM अशोक गहलोत का 2 बार फोन आया और CM ने मंत्री मेघवाल को मंडावा में हो रहे उपचुनाव में जाने के लिए कहा. जिस पर मंत्री ने CM को मंडावा जाने से मना कर दिया और मुख्यमंत्री ने जब उनसे कहा कि आप मंडावा क्यों नहीं जा रहे इस पर मेघवाल ने CM से कहा कि वो 12 अक्टूबर तक व्यस्त हैं और इसके बाद देखेंगे कि मंडावा जाएंगे या नहीं. इसके बाद सामाजिक न्याय एंव अधिकारिता मंत्री ने मुख्यमंत्री से कहा कि अगर आप कहोगे तो मंडावा में चुनाव लड़ रही प्रत्याशी को चुनाव जीता देंगे नहीं तो चुनाव हरा देंगे.

इससे पूर्व मंत्री मेघवाल ने कहा कि कांग्रेस में शेड्यूल कास्ट यानी कि मेघवाल जाती के वोट कांग्रेस को मास्टर भंवरलाल ही दिला सकते हैं लेकिन SC के काम नेता करते नहीं और गरीब शेड्यूल कास्ट को आगे आने नहीं देते. जिसके लिए नेता मुझे SC के वोट दिलाने के लिए कहते है.

इस बयान से अब बड़े बड़े मायने निकल रहे हैं और प्रश्न खड़े हो रहे हैं. इस बयान के बाद ये सवाल उठता है कि मंत्री मेघवाल मंडावा विधानसभा के वोट किसी भी तरफ CM के कहने पर डायवर्ट कर सकते हैं. इसलिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 2 बार अपनी सरकार के कैबिनेट मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल को मंडावा जाने के लिए फोन कर चुके हैं लेकिन वह 12 अक्टूबर के बाद ही फुर्सत मिलने के बाद मंडावा जाएंगे.