close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अलवर: प्रतिबंध के बाद भी आसानी से बिक रहा तंबाकू और फ्लेवर्ड सुपारी, जानिए पूरा सच

Ban of Tobacco in Raajsthan: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने इसकी घोषणा की. लेकिन इसके बावजूद अलवर (Alwar) के कई बाजारों में यह आसानी से उलबल्ध है.

अलवर: प्रतिबंध के बाद भी आसानी से बिक रहा तंबाकू और फ्लेवर्ड सुपारी, जानिए पूरा सच
अलवर में हर दुकान पर यह आसानी से मौजूद हैं. (प्रतीकात्मक फोटो साभार: DNA)

जुगल किशोर गांधी, अलवर: राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने आमजन के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ को रोकने के लिए पिछले दिनों तंबाकू (Tobacco) और फ्लेवर्ड सुपारी पर प्रतिबंध लगाया था. गांधी जयंती (Gandhi jayanti) के मौके पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने इसकी घोषणा की. लेकिन इसके बावजूद अलवर (Alwar) के कई बाजारों में यह आसानी से उलबल्ध है.

वैसे राजस्थान सरकार को इसकी बिक्री से करोड़ों का राजस्व प्राप्त होता था. लेकिन सरकार ने प्रदेश में मुंह के कैंसर(Mouth Cancer) से होने वाली मौतों का मुख्य कारण माना है. जिसके बाद इस तरह का प्रतिबंध लागू किया गया.

गुटखा बेचने के लिए निकाला नया रास्ता
गुटखा व्यापारियों ने इसकी बिक्री का नया रास्ता निकाला है. यहां गुटखा को दो भागों में बांट दिया. जिनमें से एक में तंबाकू और दूसरे में सुपारी के नाम पर मसाला पैक कर बेचा जाने लगा. जिससे गुटखे की बिक्री नहीं रुकी. इसके अलावा गुटखा निर्माता जीएसटी से भी करोडों रु अतिरिक्त बचा रहे हैं. 

आपको बता दें कि अलवर में हर दुकान पर मामा, जयंती और विमल खुलेआम दुकानों पर बिक्री के लिए उपलब्ध है.