डूंगरपुर: बोर्ड Exam में अब छात्र नहीं होंगे फेल, शिक्षा विभाग ने तैयार किया ब्लूप्रिंट

आदिवासी बहुल डूंगरपुर(Dungarpur) जिले में बोर्ड कक्षाओं के परीक्षा परिणाम(Examination Result) को सुधारने की शिक्षा विभाग (Education Department) ने कवायद शुरू कर दी है. 

डूंगरपुर: बोर्ड Exam में अब छात्र नहीं होंगे फेल, शिक्षा विभाग ने तैयार किया ब्लूप्रिंट
डूंगरपुर जिले में कुल 255 स्कूल में बोर्ड कक्षाएं संचालित होती हैं.

अखिलेश शर्मा, डूंगरपुर: आदिवासी बहुल डूंगरपुर(Dungarpur) जिले में बोर्ड कक्षाओं के परीक्षा परिणाम(Examination Result) को सुधारने की शिक्षा विभाग (Education Department) ने कवायद शुरू कर दी है. पिछले सत्र में परिणाम कम रहने से सबक लेते हुए विभाग ने 60 फीसदी से कम परिणाम वाले स्कूलों को चिन्हित करते हुए विषय विशेषज्ञों की एक टीम तैयार की है जो कैप्सूल सिलेबस के जरिये लक्ष्य को पूरा करते हुए इन स्कूलों का परीक्षा परिणाम सुधारेंगे.

आपको बता दें कि डूंगरपुर जिले में कुल 255 स्कूल में बोर्ड कक्षाएं संचालित होती हैं. इनमें से 80 स्कूल ऐसे हैं जिनका कक्षा 10 और 12 का परिणाम पिछले सत्र में 60 फीसदी से कम रहा था. जिसमें सागवाड़ा और डूंगरपुर के शहरी स्कूलों सहित झोथरी और गुजरात सीमा से लगी चिखली पंचायत समिति क्षेत्र की कुछ स्कूल शामिल है. जबकि यहां शिक्षक काफी संख्या में पदस्थापित हैं. 

विभाग ने तैयार किया ब्लू प्रिंट
विभाग का मानना है की इनमें परिणाम कम होने की वजह सरकारी आयोजन शहरी क्षेत्र में ज्यादा होना है. वहीं जिन स्कूलों में विषय विशेषज्ञों की कमी चलते परिणाम गिर रहा है. इससे निपटने के लिए शिक्षा विभाग एक ब्लू प्रिंट तैयार कर रहा है. 

जानिए क्या कह रहे हैं अधिकारी
अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक प्रकाश पंड्या ने बताया की 60 फीसदी से कम परिणाम रहने वाले 80 स्कूलों के लिए एक-एक प्रभारी बनाया गया है. इन प्रभारियों को इन स्कूलों को एक तरह से गोद दिया जा रहा है ताकि ये प्रभारी बोर्ड परीक्षा में उन टॉपिक्स का चयन करेंगे जिनमें से ज्यादा सवाल पूछे जाते है और उन्हें केंद्र में रखकर अधिकतम सवालों का क्वेश्चन बैंक बनाया जायेगा. इसके साथ हीं उन्हें सुलझाने की ट्रिक भी सिखाई जायेगी. 

चलेगी रेमेडियल क्लास
पंड्या ने बताया कि बच्चों को जनवरी माह तक हर हाल में रेमेडियल कक्षाओं और विशेष मार्गदर्शन के जरिये इस लायक तैयार कर लिया जायेगा जिससे परीक्षा में सफल हो सके.

तैयार हुआ ब्लू प्रिंट
बहरहाल डूंगरपुर शिक्षा विभाग ने बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम में सुधार के लिए अपना ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया है और उस पर काम करना भी शुरू कर दिया है. लेकिन विभाग को इस पहल का छात्रों को कितना फायदा मिलेगा ये तो आने वाला वक्त ही बता पायेगा .