close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सीकर: लक्ष्मणगढ़ पहुंचे शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, विकास कार्यों का जाना हाल

लक्ष्मणगढ़ पहुंचने पर मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कई विकास कार्यों की प्रगति रिपोर्ट(Progress Report) को जाना साथ ही अधिकारियों से भी जानकारी ली.

सीकर: लक्ष्मणगढ़ पहुंचे शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, विकास कार्यों का जाना हाल
लक्ष्मणगढ़ में विकास कार्यों की जानकारी लेते मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा.

सीकर: प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा(Govind Singh Dotasra) एक दिवसीय दौरे पर आज लक्ष्मणगढ़(Laxmangarh) पहुंचे. जहां अधिकारियों के साथ प्रस्तावित नेचर पार्क के लिए स्थल का निरीक्षण किया. इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं और प्रशासनिक अधिकारियों ने उनका स्वागत किया. 

लक्ष्मणगढ़ पहुंचने पर मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कई विकास कार्यों की प्रगति रिपोर्ट(Progress Report) को जाना साथ ही अधिकारियों से भी जानकारी ली. वहीं मौके पर ही जरूरी दिशा निर्देश देते हुए भी नजर आए.

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा से स्थानीय पदाधिकारियों के साथ प्रस्तावित नेचर पार्क(Proposed Nature Park) के लिए स्थल का निरीक्षण किया. इस मौके पर गोविंद सिंह डोटासरा मुरारका परिवार द्वारा पांच करोड़ रूपए की लागत से बनावाए गए बस स्टैंड भी पहुंचे जहां राजस्थान परिवहन निगम के अधिकारियों से सभी एक्सप्रेस बसों का भामाशाह चिरंजीलाल बदामी देवी मुरारका बस डिपो में ठहराव सुनिश्चित करने की बात कही.

इस मौके पर शिक्षामंत्री गोविंदसिंह डोटासरा ने कहा कि बजट घोषणा में स्वीकृत नेचर पार्क के लिए डीपीआर बन चुकी है जल्दी ही वित्तीय स्वीकृति निकलवा कर फरवरी, मार्च से पहले पहले कार्य शुरू कर दिया जाएगा. डोटासरा ने बताया कि लक्ष्मणगढ़ में सरकारी कॉलेज के लिए बजट में घोषणा हो चुकी थी जिसके लिए जगह चयनित कर जल्दी ही कार्य शुरू किया जाएगा.

आपको बता दें कि सरकारी कॉलेज की घोषणा के बाद बीते जुलाई माह में लक्ष्मणगढ़ में नेचर पार्क के लिए 15 करोड़ रुपए राज्य सरकार ने स्वीकृत करने की घोषणा की थी. जिसके बाद पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह की ओर से इस आशय की घोषणा की. जिसके बाद से ही नेचर पार्क एवं पर्यटन सुविधा केन्द्र की घोषणा के साथ ही इसके स्थान को लेकर कयास लगने शुरू हो गए थे. वहीं उपखंड मुख्यालय के साथ ही क्षेत्र के ग्रामीण अंचल के लोगों को भी इसका फायदा मिले, इसके लिए संभावना है कि नेचर पार्क नेशनल हाईवे के पश्चिम दिशा में बन सकता है.