close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: गांधी जयंती के दिन सरकार की बड़ी घोषणा, इन तंबाकू उत्पादों पर प्रतिबंध लागू

प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने गांधी जयंती के मौके पर राज्य में मैग्निशियम कार्बोनेट, निकोटिन, तंबाकू या मिनरल ऑयल युक्त पान मसाला और फ्लेवर्ड सुपारी के उत्पादन, भंडारण, वितरण और बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है.

राजस्थान: गांधी जयंती के दिन सरकार की बड़ी घोषणा, इन तंबाकू उत्पादों पर प्रतिबंध लागू
खाद्य सुरक्षा कानून में पहले से ये हानिकारक तत्व प्रतिबंधित हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर: राजस्थान (Rajasthan) में मैग्निशियम कार्बोनेट, निकोटिन, तंबाकू या मिनरल ऑयल युक्त पान मसाला और फ्लेवर्ड सुपारी पर प्रतिबंध लगने जा रहा है. महाराष्ट्र (Maharashtra), बिहार (Bihar) के बाद राजस्थान (Rajasthan) देश का तीसरा ऐसा राज्य है, जहां इस तरह का प्रतिबंध लागू किया गया है.

प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा (Raghu Sharma) ने गांधी जयंती (Gandhi Jayanti) के मौके पर राज्य में मैग्निशियम कार्बोनेट, निकोटिन, तंबाकू या मिनरल ऑयल युक्त पान मसाला और फ्लेवर्ड सुपारी के उत्पादन, भंडारण, वितरण और बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि इन पदार्थों की पुष्टि स्टेट सेंट्रल पब्लिक हैल्थ लैबारेट्री राजस्थान करेगी.

खाद्य सुरक्षा अधिनियम में लागू होगा प्रतिबंध
शर्मा ने कहा कि खाद्य सुरक्षा अधिनियम(Food Security Act) के तहत ऐसे सभी उत्पादों पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा. उन्होंने कहा कि युवाओं में नशे की लत को रोकने के लिए यह महत्वपूर्ण कदम उठाया गया है. महाराष्ट्र, बिहार के बाद राजस्थान देश का ऐसा तीसरा राज्य बन जाएगा, जहां इन उत्पादों पर पूर्ण प्रतिबंध है.

बनाई जा रही है कार्ययोजना
उन्होंने कहा कि ऐसी घटिया सामग्री की बिक्री को नियंत्रित कर, चोरी के माल की बिक्री पर सख्ती बरतते हुए पूरी तरह से रोक लगाने की कार्ययोजना बनाई जा रही है. आपको बता दें कि सरकार ने ई-सिगरेट और यहां संचालित हो रहे हुक्का बारों पर भी प्रतिबंध लगा रखा है.

सीएम ने कही है सख्ती की बात
आपको बता दें कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने महात्मा गांधी की जयंती पर बाजार में जहर कारक तत्व मिलाकर बिकने वाले पान मसाले, तंबाकू, निकोटिन, मैग्नीशियम कार्बोनेट और मिनरल ऑयल को लेकर सख्ती की बात कही है. इसके लिए जयपुर समेत प्रदेशभर में युद्ध स्तर पर अभियान चलाया जाएगा. 

यह वीडियो भी देखें:

शर्मा करेंगे अभियान की मॉनिटरिंग
बताया जा रहा है कि चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा खुद पूरे अभियान की मॉनिटरिंग करेंगे. इस दौरान किसी भी पान मसाला में यह हानिकारक तत्व मिलने पर कंपनियों के खिलाफ खाद्य सुरक्षा कानून में सख्त कार्रवाई होगी.

हानिकारक तत्व पहले से हैं प्रतिबंधित
बता दें, खाद्य सुरक्षा कानून में पहले से ये हानिकारक तत्व प्रतिबंधित हैं. लेकिन कई पान मसाला कंपनियां प्रोडक्ट को लंबी अवधि तक सुरक्षित रखने के लिए इस तरह का हानिकारक तत्व मिलाती है.