लोकसभा में गृह मंत्रालय ने कहा, 'जम्मू-कश्मीर में 5 अगस्त के बाद आतंकी घटनाओं में आई कमी'

गृहमंत्रालय ने कहा है कि 5 अगस्त के बाद 19 नागरिकों की मौत आतंक से जुड़ी घटनाओं की वजह से हुई है इसमें गैर-कश्मीरी मजूदर भी शामिल है. 

लोकसभा में गृह मंत्रालय ने कहा, 'जम्मू-कश्मीर में 5 अगस्त के बाद आतंकी घटनाओं में आई कमी'
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: गृह मंत्रालय (home Ministry) ने कहा है कि 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) के विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने के बाद से आंतकी घटनाओं ( terrorist incidents) में कमी आई है. हालांकि घुसपैठ की घटनाओं में इसके बाद बढ़ोतरी देखी गई है.  मंगलवार को लोकसभा में गृहमंत्रालय ने यह जानकारी दी.

लोकसभा में जाकनारी देते हुए गृहमंत्रालय ने कहा, 5 अगस्त के बाद से आतंकी घटनाओं में कमी आई है. इस साल 5 अगस्त 2019 से 27 नवंबर, 2019 के बीच इस तरह की 88 घटनाएं हुई हैं जो कि 12 अप्रैल 2019 से 4 अगस्त 2019 के बीच हुई 106 आतंकी घटनाओं से कम हैं. 

गृहमंत्राय ने कहा कि सीमा पर घुसपैठ की कोशिशों में बढ़ोतरी देखी गई है. 5 अगस्त 2019 से 31 अक्टूबर 2019 के (88 दिनों) के बीच घुसपैठ की 84 कोशिशें हुई हैं.  जो कि 9 मई 2019 से 4 अगस्त 2019 के बीच हुई घुसपैठ की घटनाएं हुईं. 

इसी के साथ गृह मंत्रालय ने 5 अगस्त के बाद कश्मीर में आतंकी घटनाओं में नागरिकों की मौत का आंकड़ा भी दिया है. गृहमंत्रालय ने कहा है कि 5 अगस्त के बाद 19 नागरिकों की मौत आतंक से जुड़ी घटनाओं की वजह से हुई है इसमें गैर-कश्मीरी मजूदर भी शामिल है.