ममता सरकार और राज्‍यपाल के बीच तनातनी, गवर्नर को यात्रा के लिए नहीं दिया हेलीकॉप्‍टर

पश्चिम बंगाल और राज्‍यपाल जगदीप धनकड़ के बीच की तनातनी ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रही है.

ममता सरकार और राज्‍यपाल के बीच तनातनी, गवर्नर को यात्रा के लिए नहीं दिया हेलीकॉप्‍टर

बर्द्धवान: पश्चिम बंगाल और राज्‍यपाल जगदीप धनकड़ के बीच की तनातनी ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रही है. इस बार गवर्नर साहब के मुर्शिदाबाद जाने को लेकर के विवाद खड़ा हो गया जहां एक अनुष्ठान में उन्हें जाना है. राजभवन का आरोप है कि हेलीकॉप्‍टर मांगने के बावजूद नहीं दिया गया और आज इसी वजह से उनको 600 किलोमीटर का रास्ता अब गवर्नर साहब को गाड़ी से पार करना पड़ रहा है. आज सुबह सुबह सूरज उगने से पहले ही गवर्नर अपनी यात्रा पर निकल गए और अब बर्दवान, बीरभूमि को पार करते हुए मुर्शिदाबाद जा रहे हैं.

राजयपाल ने बताया कि उन्होंने हेलीकॉप्‍टर देने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चिट्ठी लिखी थी लेकिन कोई जवाब नहीं मिला. उन्‍होंने कहा कि फरक्का के प्रोफेसर SNH कॉलेज के सिल्वर जुबली कार्यक्रम में शामिल होने के लिए मुझे निमंत्रण मिला है, इसीलिए अब मजबूरन सड़क मार्ग से जाना पड़ रहा है.

उन्‍होंने कहा कि जब मुख्यमंत्री कुछ कहती हैं तो मैं हमेशा उनका उत्तर 24 घंटे के भीतर भीतर दे देता हूं. राज्‍यपाल के मुताबिक कल मुख्यमंत्री ने कहा कि सारी बॉल नहीं खेलनी चाहिए, कुछ गेंदों को छोड़ भी देना ज़रूरी होता है और क्‍योंकि उन्होंने मेरा नाम नहीं लिया इसीलिए मैं भी कुछ उत्तर नहीं दूंगा और अगर कोई लिखित रूप से मेरी किसी बात पर आपत्ति करता है तो उसका जवाब मैं ज़रूर दूंगा.

(इनपुट: श्रेयसी)