close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: शीतलामाता मंदिर में नवरात्र मेले को लेकर तैयारियां शुरू, किए गए सुरक्षा के इंतजाम

महल अधीक्षक पंकज धरेंद्र ने बताया की शारदीय नवरात्रा 29 सितंबर से 7 अक्टूबर तक के लिए पर्यटकों के लिए दो स्थानों पर महल प्रवेश के लिए बुकिंग व्यवस्था सिंहपोल और त्रिपोलिया गेट पर की गई है. 

जयपुर: शीतलामाता मंदिर में नवरात्र मेले को लेकर तैयारियां शुरू, किए गए सुरक्षा के इंतजाम

दामोदर प्रसाद, जयपुर: मां शक्ति की अराधना के नौ दिन रविवार यानि 29 सितंबर से शुरू होने जा रहे हैं. नवरात्र में मां दुर्गा को सबसे ज्यादा प्रिय शारदीय नवरात्र में मां दुर्गा पालकी में बैठकर घर आएंगी. नौ दिन देवी के भक्त मां की आराधना और अनुष्ठान करेंगे. नौ दिन तक छोटीकाशी माता के जयकारों से गुंजायमान रहेगी. आमेर स्थित शीlलामाता मंदिर सहित अन्य मंदिरों और घर-घर में 29 सितंबर को घटस्थापना की जाएगी.

आमेर महल स्थित शीतलामाता मंदिर में शारदीय नवरात्र मेले को लेकर महल प्रशासन की ओर से पर्यटकों की व्यवस्थाओ में बदलाव किए गए हैं. पर्यटकों के आवागमन के लिए अलग व्यवस्थाएं की हैं. शारदीय नवरात्र मेले के दौरान पर्यटकों के लिए रात्रिकालीन महल और हाथी सवारी बंद रहेगी. 

नवरात्र के दौरान हाथी गांव में पर्यटकों को हाथी सवारी करवाई जाएगी. नवरात्र मेले में दर्शनार्थियों की भीड़ को देखते हुए पर्यटकों की सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए रात्रिकालीन महल और हाथी सवारी 28 सितंबर से 8 अक्टूबर तक पर्यटकों के लिए पूर्णतया बंद रहेगी. 

महल अधीक्षक पंकज धरेंद्र ने बताया की शारदीय नवरात्र 29 सितंबर से 7 अक्टूबर तक के लिए पर्यटकों के लिए दो स्थानों पर महल प्रवेश के लिए बुकिंग व्यवस्था सिंहपोल और त्रिपोलिया गेट पर की गई है. पर्यटकों के निकासी के लिए भी त्रिपोलिया गेट से ही की गई है ताकि दर्शनार्थियों और पर्यटकों के लिए कोई परेशानी नहीं हो. नवरात्र मेले के दौरान तीसरी नजर सीसीटीवी कैमरे से भी नजर रखी जाएगी. जिससे पर्यटकों और दर्शनार्थियों को किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं हो सके.