सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता, पुलवामा में मार गिराया जैश का टॉप कमांडर, उसके दो साथी भी किए ढेर

 मारे गए तीन आतंकियों में शामिल जैश कमांडर खालिद 2017 के लेथपोरा हमले का मास्टरमाइंड है. इसके अलावा सेना के दो जवान सहित तीन लोग घायल भी हुए हैं. 1 नागरिक की मौत भी हुई है.

सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता, पुलवामा में मार गिराया जैश का टॉप कमांडर, उसके दो साथी भी किए ढेर
पुलवामा में सुबह हुई मुठभेड़. फोटो ANI

नई दिल्‍ली : सुरक्षाबलों ने जम्‍मू और कश्‍मीर के पुलवामा में गुरुवार सुबह हुए एनकांउटर में जैश-ए-मोहम्‍मद के टॉप कमांडर खालिद समेत तीन आतंकियों को मार गिराया है. दलीपोरा इलाके में सुबह हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबल का एक जवान भी शहीद हुआ है. साथ ही एक नागरिक की भी मौत हुई है. मारे गए तीन आतंकियों में शामिल जैश कमांडर खालिद 2017 के लेथपोरा हमले का मास्टरमाइंड है. इसके अलावा सेना के दो जवान सहित तीन लोग घायल भी हुए हैं. मुठभेड़ के बाद झड़पों और प्रदर्शनों के कारण पुलवामा में सुरक्षा के लिहाज से कर्फ्यू लगा दिया गया है. साथ ही मोबाइल और इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ के शुरुआती चरण में तीन सैनिकों और दो भाइयों मोहम्मद यूनिस डार और रईस अहमद डार घायल हो गए थे. अधिकारी ने कहा कि रईस की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसके भाई यूनिस को पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे विशेष उपचार के लिए श्रीनगर अस्पताल रेफर कर दिया गया है.

 

अधिकारी ने कहा कि घायल जवानों को सेना के 92 बेस अस्पताल बादामीबाग श्रीनगर ले जाया गया, जहां उनमें से एक जवान ने दम तोड़ दिया. घायल सैनिकों का इलाज अस्पताल में चल रहा है. मारे गए आतंकियों के शवों के साथ हथियार और और गोला-बारूद भी मुठभेड़ स्थल से बरामद किए गए हैं. 

अधिकारी ने मारे गए आतंकियों की पहचान कर्मबीद पुलवामा के नसीर पंडित, बेतियापोरा शोपियां के उमर मीर और पाकिस्तान के खालिद भाई के रूप में की. मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादी संगठन से संबंधित थे. पुलिस सूत्रों ने कहा कि खालिद भाई पिछले आठ सालों से कश्मीर में सक्रिय था और उसका मारा जाना एक बड़ी सफलता है.

बताया जा रहा है कि जैश संगठन का टॉप कमांडर खालिद भाई 2017 में लेथपोरा में सीआरपीएफ कैंप पर हुए फिदायीन हमले में शामिल था. इस हमले में पांच सीआरपीएफ के जवान शहीद हुए थे. खालिद को हमले का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है. पुलिस ने कहा इस इलाके में आतंकवादियों के होने की सूचना के बाद मुठभेड़ शुरू हुई. पुलिस ने कहा कि पुलिस और सेना की एक संयुक्त टीम पर छुपाए आतंकियों ने तब गोलीबारी की, जबकि दलीपोरा गांव में एक घर को घेरा गया और तलाशी अभिया शुरू किया गया था.

आतंकवादियों की उपस्थिति के बारे में विश्वसनीय इनपुट के बाद कॉर्डन को लॉन्च किया गया था. वहीं अधिकारियों ने झड़पों के बाद पुलवामा टाउन में कर्फ्यू लगा दिया है. इस बीच, दक्षिणी जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं भी निलंबित कर दी गई हैं. इलाके में अब भी काफी तनाव है और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए अतिरिक्त संख्‍या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है.