जालौर: पश्चिम बंगाल में हिंदुओं की हत्या पर बजरंग दल का विरोध, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

पिछले अनेक वर्षों से पश्चिम बंगाल के हिंदू समाज को षड्यंत्र पूर्वक आतंकित और प्रताड़ित किया जा रहा है. आतंकियों को राज्य सरकार का खुला समर्थन प्राप्त है. 

जालौर: पश्चिम बंगाल में हिंदुओं की हत्या पर बजरंग दल का विरोध, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन
पश्चिम बंगाल के हिंदू समाज को आतंकित और प्रताड़ित किया जा रहा है.

बबलू मीणा, जालौर: बजरंग दल ने पश्चिम बंगाल में निर्दोष हिंदुओं की हत्या को लेकर महामहिम राष्ट्रपति के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है. दरअसल, 10 अक्टूबर को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में बंधु प्रकाश पाल और उनकी गर्भवती धर्म पत्नी और 8 वर्षीय बेटे की जघन्य तरीके से हत्या कर दी गई थी. इस घटना से संपूर्ण राष्ट्र का हिंदू समाज आहत हुआ है. 

बजंरग दल का कहना है कि बंगाल वहां के हिंदू समाज के लिए आतंक का पर्याय बन गया है. बांग्लादेशी मुस्लिम घुसपैठियों की अत्यंधिक संख्या के कारण उनके वोटों की लालची ममता सरकार भी न केवल उनके असंवैधानिक दुष्कृत्यों की अनदेखी कर रही है, बल्कि उनको हिंदू समाज पर और अधिक अत्याचार करने के लिए प्रोत्साहित भी कर रही है. 

पिछले अनेक वर्षों से पश्चिम बंगाल के हिंदू समाज को षड्यंत्र पूर्वक आतंकित और प्रताड़ित किया जा रहा है. आतंकियों को राज्य सरकार का खुला समर्थन प्राप्त है. पश्चिम बंगाल सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लगाया जाए. बंधु प्रकाश पाल और परिवार हत्याकांड की सीबीआई जांच करवाकर हत्यारों को मृत्युदंड दिया जाए. पश्चिम बंगाल में एनआरसी लागू किया जाए, तथा बांग्लादेशी मुस्लिम घुसपैठियों को वापस बांग्लादेश भेजा जाए. 

नागरिकता बिल में संशोधन कर बांग्लादेश से प्रताड़ित होकर आए हिंदुओं को भारत में नागरिकता दी जाए, और उनका संरक्षण कर सुरक्षा प्रदान की जाए. पश्चिम बंगाल में रहने वाले राष्ट्रविरोधी असामाजिक तत्वों की पहचान कर उन पर कानूनी कार्रवाई की जाए. इन सभी मांगों को लेकर आज जिला कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन. इस दौरान सुरेंद्रपुरी जिला संयोजक बजरंग दल, दिनेश जीनगर, महेंद्र प्रजापत, जुगल किशोर मोर, त्रिवेंद्रसिंह, वीरेंद्रखत्री, कैलाश महेश्वरी, लखाराम, शांतिलाल, जितेंद्र और महेंद्र कुमार सहित काफी संख्या में युवा मौजूद रहे.