कश्मीर में 24 घंटे में तीन आतंकी वारदात, एक पाकिस्तानी समेत दो आतंकी मारे गए

सुरक्षाबलों के मुताबिक उन्होने सरहामा में लश्कर ए तैयबा के दो आतंकवादियों को मार गिराया है. मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी आतंकवादी अबू रहमान उर्फ उस्मान खालिद मारा गया वहीं दूसरा आतंकी स्थानीय गांव का रहने वाला आदिल था.

कश्मीर में 24 घंटे में तीन आतंकी वारदात, एक पाकिस्तानी समेत दो आतंकी मारे गए
फाइल फोटो

कश्मीर : जम्मू-कश्मीर में 24 घंटे के दौरान तीन आतंकी वारदातों से सुरक्षा बलों पर दबाव बढ़ गया है. पहली आतंकी घटना बड़गाम में घटी जहां आतंकियों ने बड़गाम (Badgam) के खाग में एक बीडीसी (Block Development Council chairman) भूपिंदर सिंह की हत्या कर दी. उन्हे सरकारी सुरक्षा मिली हुई थी, लेकिन हमले के दौरान वो निजी वाहन से बिना पुलिसवालों को सूचित किए अपने गांव जा रहे थे.

बड़गाम जिले के खाग में 'लश्कर ए तैयबा' की नापाक करतूत
बीडीसी चेयरमैन की हत्या के मामले में दो पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है. ज़ी न्यूज़ को वारदात के दो संदिग्धों की जानकारी मिली है. जिनका नाम यूसुफ कंद्रू और अबरार बताया जा रहा है जिनका संबंध लश्कर (Lashkar-e-Taiba) से है. 
 
बडगाम जिले के चादोरा इलाके में जैश का 'गुनाह-ए-अज़ीम'
बडगाम जिले के चादोरा इलाके में एक सीआरपीएफ अफसर की अत्याधुनिक M4 राइफल (M4 rifle) से हत्या कर दी गई. इस आतंकी वारदात में जैश-ए-मोहम्मद का हाथ था.

अनंतनाग जिले के सरहामा इलाके में तीसरी आतंकी वारदात
तीसरी वारदात जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिला अंतर्गत सरहामा इलाके में हुई जहां एक वकील बाबर कादरी के दफ्तर में क्लाइंट बनकर पहुंचे दो अज्ञात आतंकवादियों ने गोली मार कर  उनकी हत्या कर दी. उनके सर में चार गोलियां मारी और इसके बाद भी वो फायरिंग करते रहे. इस वारदात की सीसीटीवी फुटेज की पुलिस जांच कर रही है. मामले की जांच के लिए SIT का गठन किया गया है.

ये भी पढ़ें - जम्मू कश्मीर: आतंकियों ने सोशल मीडिया पर जारी की 'हिट लिस्ट', इन्हें निशाना बनाने की धमकी

नौगाम हमले के आरोपी दो आतंकवादी मारे गए 
सुरक्षाबलों के मुताबिक उन्होने सरहामा में लश्कर ए तैयबा के दो आतंकवादियों को मार गिराया है. मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी आतंकवादी अबू रहमान उर्फ उस्मान खालिद मारा गया वहीं दूसरा आतंकी स्थानीय गांव का रहने वाला आदिल था, दोनो नौगाम में हुए हमले के आरोपी थे. 

आतंकी हिट लिस्ट में थे वकील बाबर कादरी
सरहामा में हुई वारदात में मारे गए बाबर कादरी को सुरक्षा नहीं मिली थी, लेकिन उन्हे काफी समय से मारने की धमकी मिल रही थी. इसके बाद पुलिस ने उनसे कहीं बाहर नहीं जाने और घर पर ही सुरक्षित रहने की अपील की थी. पुलिस सोशल मीडिया के एकाउंट भी खंगाल रही है. 

आतंकी संगठन 'द रेजिस्टेंस फ्रंट' TRF ने बढ़ाई चिंता
पाकिस्तान ने नए आतंकी संगठन 'द रेजिस्टेंस फ्रंट' (TRF) को फाइनेंशियल ऐक्शन टास्क फोर्स की कार्रवाई से बचाने के लिए बनाया था. यह आतंकी संगठन कश्मीर में सक्रिय मौजूदा आतंकवादी गुटों का एक मिला-जुला रूप है. इसके जरिए सोशल मीडिया पर लोगों को मारने की धमकी दी जाती है. इस संगठन के जरिए भी कई लोगों की हत्या हो चुकी है. 

इस समय जम्मू-कश्मीर में करीब 70 से 90 विदेशी आतंकवादी सक्रिय हैं. जिनमें से 40 का नाम और पहचान की जानकारी भारतीय एजेंसियों और सुरक्षा बलों के पास है, बाकी की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है. माना जा रहा है फिलहाल 200 आतंकी इस सूबे में मौजूद हो सकते हैं. जिन्हे पाकिस्तान अत्याधुनिक हथियार भेज रहा है.

LIVE TV
 

LIVE TV-