close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

येदियुरप्पा बोले-कर्नाटक से विदा हो कांग्रेस-JDS सरकार, सिद्धरमैया का जवाब-मध्यावधि चुनाव के आसार नहीं

येदियुरप्पा ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ‘ग्राम वस्तव्य’ के नाम पर करोड़ों रुपये बर्बाद कर रहे हैं. सिद्धरमैया ने येदियुरप्पा के आरोपों को नकार दिया है.

येदियुरप्पा बोले-कर्नाटक से विदा हो कांग्रेस-JDS सरकार, सिद्धरमैया का जवाब-मध्यावधि चुनाव के आसार नहीं

बेंगलुरु: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की कर्नाटक इकाई के प्रमुख बी एस येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के ‘ग्राम वस्तव्य’ (गांवों में रात भर का ठहराव) कार्यक्रम को “नाटक” बता कर सोमवार को खारिज किया और कहा कि लोगों को कांग्रेस एवं जद (एस) के नेताओं के बीच के “रोजाना के झगड़ों” से निजात चाहिए. इस पर कांग्रेस के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने कहा, “कोई मध्यावधि चुनाव होने नहीं जा रहा.” इससे कुछ दिन पहले पूर्व प्रधानमंत्री एवं जद(एस) प्रमुख एच डी देवगौड़ा ने मध्यावधि चुनाव होने की बात कह कर कांग्रेस में खलबली मचा दी थी.

येदियुरप्पा का आरोप करोड़ों रुपए बर्बाद कर रहे कुमारस्वामी
येदियुरप्पा ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ‘ग्राम वस्तव्य’ के नाम पर करोड़ों रुपये बर्बाद कर रहे हैं और दावा किया कि सरकार ने पिछले हफ्ते इस कार्यक्रम के तहत यादगीर जिले के चंद्रारकी गांव में कुमारस्वामी के ठहरने पर एक करोड़ रुपये खर्च किए. ‘ग्राम वस्तव्य’ का लक्ष्य प्रशासन को लोगों तक ले जाना है. येदियुरप्पा ने दावा किया कि सत्तारूढ़ कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन के आंतरिक झगड़े ने ऐसा माहौल बना दिया है कि सरकार किसी भी वक्त गिर सकती है. साथ ही उन्होंने कुमारस्वामी से पूछा कि लोगों को उनके प्रशासन से कब राहत मिलेगी जो अपनी दिशा खो चुका है.

येदियुरप्पा ने कहा कि कुमारस्वामी नौकरशाही पर अपना नियंत्रण खो चुके हैं और अपने जिला प्रभारी मंत्रियों में उन्हें भरोसा नहीं है. साथ ही उन्होंने कुमारस्वामी पर एक पांच सितारा होटल से प्रशासन कथित तौर पर चलाने को लेकर भी निशाना साधा.

 कर्नाटक में मध्यावधि चुनाव के कोई आसार नहीं : सिद्धरमैया
सिद्धरमैया ने राज्य विधानसभा के मध्यावधि चुनाव के किसी भी आसार को सोमवार को खारिज कर दिया. गठबंधन में बढ़ते तनाव का संकेत देते हुए देवगौड़ा ने पिछले शुक्रवार कहा था कि नि:संदेह राज्य विधानसभा के लिए मध्यावधि चुनाव होंगे लेकिन बाद में अपनी बात से यह कहते हुए पीछे हट गए थे कि वह शहरी निकाय चुनावों की बात कर रहे थे.

सिद्धरमैया ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बी एस येदियुरप्पा पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री गठबंधन सरकार के गिरने और राज्य में अपनी सरकार बनाने का “सपना” देख रहे हैं. उन्होंने कहा, “कोई भी उनके (येदियुरप्पा के) सपनों (सरकार बनाने और मुख्यमंत्री बनने के) पर प्रतिक्रिया नहीं दे सकता. वह अब तक कई बार इस बारे में कह चुके हैं। येदियुरप्पा ने जो कुछ भी कहा है वह सच नहीं साबित हुआ है.”