नन यौनशोषण मामला: शीर्ष पुलिस अधिकारियों पर लगा जांच में रोड़े अटकाने का आरोप

बलात्कार के एक कथित मामले को लेकर सड़कों पर उतरने के एक दिन बाद पांच ननों ने रविवार को शीर्ष पुलिस अधिकारियों पर मामले के जांच में रोड़े अटकाने के प्रयास करने का आरोप लगाया.

नन यौनशोषण मामला: शीर्ष पुलिस अधिकारियों पर लगा जांच में रोड़े अटकाने का आरोप
मीडिया के साथ बातचीत में पीसी जॉर्ज नाम के विधायक ने पीड़ित नन को प्रॉस्टिट्यूट तक कह दिया.(फाइल फोटो)

कोच्चि: बलात्कार के एक कथित मामले को लेकर सड़कों पर उतरने के एक दिन बाद पांच ननों ने रविवार को शीर्ष पुलिस अधिकारियों पर मामले के जांच में रोड़े अटकाने के प्रयास करने का आरोप लगाया. इस मामले में एक रोमन कैथोलिक बिशप पर बलात्कार का आरोप लगाया गया है. कोट्टायम में एक कान्वेंट के ननों ने जालंधर के बिशप फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ जांच अपराध शाखा को सौंपने की रिपोर्टों की निंदा की. उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस अधिकारी बिशप फ्रैंको को बचाने के लिए मामले में जांच की देरी करने का प्रयास कर रहे हैं. 

शीर्ष अधिकारी अटका रहे हैं जांच में रोड़ा
एक नन ने आरोप लगाया, ‘‘हमें पुलिस उपाधीक्षक की जांच में पूर्ण विश्वास है, लेकिन शीर्ष पुलिस अधिकारी उन्हें स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच करने नहीं दे रहे हैं.’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘वे जांच में देरी कर रहे हैं और मामले में रोड़े अटकाने का प्रयास कर रहे हैं.’’ डीजीपी लोकनाथ बेहरा ने कहा कि इस समय जांच अपराध शाखा को नहीं सौंपा गया है. उन्होंने बताया, ‘‘इस समय अपराध शाखा को जांच सौंपने को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया है.’’ बेहरा ने कहा कि उन्होंने एर्नाकुलम रेंज के आईजी विजय शंकर को जितना जल्दी संभव हो सके उतना जल्दी जांच को पूरा करने का निर्देश दिया है. 

विधायक ने दिया नन के खिलाफ आपत्तिजनक बयान
गौरतलब है कि जालंधर के एक बिशप फ्रेंको मुलक्कल द्वारा केरल की एक नन के यौन शोषण का मामला सुर्खियों में हैं. कुछ दिन पहले इस मामले में केरल में बड़ी संख्या में ननों ने प्रदर्शन कर फ्रेंको मुलक्कल की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की थी. हालांकि पुलिस अब तक इस मामले में किसी नतीजे या कार्रवाई तक नहीं पहुंची है, लेकिन इसी दौरान केरल के एक निर्दलीय विधायक ने नन के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देकर नए विवाद को जन्म दे दिया है.

नन को विधायक ने बताया प्रॉस्टिट्यूट
मीडिया के साथ बातचीत में पीसी जॉर्ज नाम के इस विधायक ने पीड़ित नन को प्रॉस्टिट्यूट तक कह दिया. मीडिया से बातचीत में इस विधायक ने कहा, इसमें कोई संदेह नहीं कि वह एक प्रॉस्टिट्यूट है. 12 बार कोई चीज आपके लिए मजा है, तो 13वीं बार में वह आपके लिए रेप हो जाती है. जब उसके साथ 12 बार ऐसा हो रहा था तब वह कहां थी. तब उसने किसी से क्यूं नहीं कहा. जब यह पहली बार हुआ तब उसने शिकायत क्यों नहीं की.

(इनपुट भाषा से)