कोटा: अभी तक नहीं भर पाए बाढ़ के जख्म, सडकों पर उतरने को लोग मजबूर

बाढ़ पीडित लोग आज भी परेशानियों में जीने को मजबूर हैं

कोटा: अभी तक नहीं भर पाए बाढ़ के जख्म, सडकों पर उतरने को लोग मजबूर
सडकों पर प्रदर्शन करते लोग.

कोटा: कोटा में छह सप्ताह पहले आई बाढ़ के जख्म अभी तक भर नही पाए है. बाढ़ पीडित लोग आज भी परेशानियों में जीने को मजबूर हैं. प्रशासन व सरकार से मदद नहीं मिलने पर बाढ़ पीड़ित सडक पर उतरने को मजबूर हैं. जानकारी के अनुसार कोटा में छह सप्ताह पहले आई बाढ़ से पीडित लोग आज भी परेशानियों में जीवन यापन कर रहे हैं. प्रशासन व सरकार से मदद नहीं मिलने पर बाढ़ पीड़ितों ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया है. ओर राहत देने व मुआवजा देने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम जिला प्रशासन को ज्ञापन सौपा है.

प्रदर्शनकारी महिलाओं के मुताबिक बाढ़ के बाद ही पीड़ित कॉलोनियों के लोग परेशानियों से जूझ रहे है.प्रशासन द्वारा सर्वे कराकर इतिश्री कर ली गई है. पीड़ितों तक किसी भी प्रकार की मदद नहीं पहुचाई गई. पीडित कॉलोनियों में मौसमी बीमारियों के प्रकोप से लोग बीमार हो रहे हैं. उनके पास इलाज करवाने के पैसे तक नही हैं. घर मे खाने की व्यवस्था नही है.बाढ़ पीडितों के मुताबिक चुनाव के दौरान वोट लेने के लिए राजनेता बार बार आते है. लेकिन बाढ़ के बैद हालातों को देखने कोई नहीं आया है.  

पीडितों के अनुसार  बिजली के बिल भी 5-5 हजार के आये हैं.ऐसी स्थिति में बिजली का बिल कैसे चुकाया जाएगा. इन सभी समस्याओं को लेकर प्रदर्शनकारियों की ओर से जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर सरकार से राहत व मुआवजा दिलवाने की मांग की गई है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.