close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोटा रोड रेज की घटना में पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा, चार गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक सभी आरोपी नयापुरा इलाके के रहने वाले हैं. कोटा में आई बाढ़ के बाद 19 सितंबर को ये सभी बाइक व स्कूटी पर सवार होकर एयरोड्राम की तरफ जा रहे थे.

कोटा रोड रेज की घटना में पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा, चार गिरफ्तार
जिस जगह वारदात हुई उसके आसपास कई संस्थानों में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे

कोटा: राजस्थान के कोटा पुलिस ने रोड रेज की घटना का खुलासा करते हुए चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही एक नाबालिग को निरुद्ध किया है. पांचों के ऊपर एक भारतीय जनता युवा मोर्चा की हत्या का आरोप है. हत्या का कारण सुनकर आप के भी कान खड़े हो जाएगे. पुलिस कस्टडी में लिए गए आरोपियों की उम्र 19 से 21 वर्ष है. आप जानकर हैरान होंगे कि बाइक पर घूमते-घूमते इन्होंने ऐसा अपराध किया है, जिसे कानून की किताब में 'रोड रेज' कहा जाता है.

पुलिस के मुताबिक सभी आरोपी नयापुरा इलाके के रहने वाले हैं. कोटा में आई बाढ़ के बाद 19 सितंबर को ये सभी बाइक व स्कूटी पर सवार होकर एयरोड्राम की तरफ जा रहे थे. उसी दौरान प्रदीप पांचाल (मृतक) की बाइक के आगे -पीछे व बराबर चलाने लगे. प्रदीप ने इस बात का विरोध किया तो गुस्से में आकर आरोपियों ने विज्ञान नगर फ्लाई ओवर के नीचे प्रदीप की बाइक रुकवाकर मारपीट शुरू कर दी और चाकू से वार कर दिया. चाकूबाजी में घायल प्रदीप की मौत हो गई.

जिस जगह वारदात हुई उसके आसपास कई संस्थानों में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे, लेकिन पुलिस को कोई मजबूत सुराख हाथ नहीं लगा था. प्रदीप की किसी से दुश्मनी की बात भी सामने नहीं आ रही थी. ऐसे में पुलिस के लिए हत्या की गुथ्थी सुलझाना चुनौती भरा था. इधर, बीजेपी की ओर से प्रदर्शन किया जा रहा था. हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस ने साइबर टीम व अभय कमांड सेंटर के सीसीटीवी कैमरों की मदद ली. साथ ही, आरोपीयो की तलाश के लिए विशेष टीम का गठन किया और आरोपियों को धर दबोचा.

वहीं, हत्या का कारण सुनकर एक बार तो पुलिस अधिकारी भी चौंक गए, कि बाइक आगे-पीछे व बराबर चलाने की बात पर कहा-सुनी को लेकर कैसे कोई किसी की हत्या कर सकता है. 19 सितंबर को आरोपी घूमने की फिराक से एरोड्राम की तरफ आये थे, मौज-मस्ती में आरोपीयो ने एक युवक की सरेराह हत्या कर दी, पुलिस ने वारदात में शामिल एक नाबालिग को भी गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक इस नाबालिग को पहले भी आर्म्स एक्ट में पकड़ा जा चुका है. 

कोटा में कम उम्र के युवको में अपराध की प्रवृति बढ़ती जा रही है. प्रदीप की हत्या को भी कम उम्र के आरोपी ने अंजाम दिया है. ऐसे में सवाल उठता है कि आज का युवा किस दिशा में जा रहा है? डॉक्टर, इंजीनियर, टीचर बनने के सपने देखने की उम्र में कैसे आपराधिक घटनाओं में लिप्त होता जा रहा है? आज के समाज के लिए चिंता का विषय है. 

(इनपुट-मुकेश सोनी, हिंमांशु मित्तल)