close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PM मोदी ने लद्दाख को UT बनाने का फैसला लेकर 56 इंच का सीना दिखाया : MP नामग्‍याल

लद्दाख से बीजेपी सांसद जामयांग सेरिंग नामग्‍याल ने Zee News से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि अपने निजी और परिवार के फायदे के लिए कांग्रेस धारा 370 हटाने का विरोध कर रही है.

PM मोदी ने लद्दाख को UT बनाने का फैसला लेकर 56 इंच का सीना दिखाया : MP नामग्‍याल
सांसद नामग्‍याल ने ज़ी न्‍यूज से की खास बातचीत. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाकर लद्दाख को अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने के मोदी सरकार के फैसले से पूरे लद्दाख में खुशी का माहौल है. लद्दाख से बीजेपी सांसद जामयांग सेरिंग नामग्‍याल ने Zee News से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने का फैसला लेकर पीएम मोदी ने 56 इंच का सीना दिखाया है. ये फैसला और कोई नहीं ले सकता था. लद्दाख के लोग पीएम मोदी को जल्द लद्दाख आने का निमंत्रण देने दिल्ली जाएंगे और पीएम मोदी को लद्दाख बुलाकर जश्न मनाया जाएगा. 

वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए जामयांग सेरिंग ने कहा कि अपने निजी और परिवार के फायदे के लिए कांग्रेस धारा 370 हटाने का विरोध कर रही है. कांग्रेस ने कभी भी लद्दाख के विकास पर ध्यान नहीं दिया. लद्दाख की किसी भी मांग को कांग्रेस में नेहरू से लेकर मनमोहन सिंह तक किसी ने पूरा नहीं किया. लेकिन अब पीएम मोदी के नेतृत्व में लद्दाख अपनी संस्कृति और पहचान को दोबारा वापस पाएगा. 

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस को देशभक्ति दिखानी चाहिए, छिपाना नहीं चाहिए. कांग्रेस कश्मीर के मामले को UN लेकर जाने की बात करती है, जबकि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है. कांग्रेस को देश प्रेम का इजहार करना चाहिए. संसद में देशहित के बिलों पर कांग्रेस को विरोध नहीं करना चाहिए.

देखें LIVE TV

बीजेपी सांसद जामयांग सेरिंग नामग्याल ने कहा कि कश्मीर के साथ अभी तक रहने से लद्दाख को अनगिनत नुकसान हुआ है. कश्मीर के नेता राज्य के फंड को श्रीनगर ले जाते थे, हमारी संस्कृति बिल्कुल अलग है. हमारे लोगों को अपना नाम बदलवाने के लिए लद्दाख से श्रीनगर जाना पड़ता था. लद्दाख की महिलाएं कश्मीर में पुलिस में तैनात हैं लेकिन कोई भी कश्मीरी महिला लद्दाख में पुलिस बल में तैनात नहीं है. 70 सालों से लद्दाख के साथ भेदभाव किया गया. 

जामयांग सेरिंग नामग्याल ने कहा कि लद्दाख में स्थानीय लोगों की जमीन किसी को नहीं दी जाएगी, जो लोग यहां निवेश करेंगे वो जमीन लीज पर ले पाएंगे. उद्योग स्थापित करने वाले लोगों को यहां स्थानीय लोगों को रोजगार देना अनिवार्य होगा. पीएम मोदी के नेतृत्व में अब लद्दाख का संपूर्ण विकास होगा. लद्दाख में आईटी कंपनियां आएंगी.