Breaking News
  • दिल्‍ली हिंसा पर कांग्रेस ने राष्‍ट्रपति को ज्ञापन सौंपा
  • सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह समेत कई नेता राष्‍ट्रपति से मिले
  • अखिलेश यादव सीतापुर के लिए निकले. जेल में बंद सपा नेता आजम खां व उनके परिवार से करेंगे मुलाकात

इंफाल में बोले PM मोदी, 'भ्रष्‍टाचार करने वाले अब कोर्ट का चक्‍कर लगा रहे हैं'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को मणिपुर के हप्ता कांगजीबंग में जनसभा के दौरान आठ परियोजनाओं का उद्घाटन किया और चार अन्य योजनाओं की आधारशिला रखी. 

इंफाल में बोले PM मोदी, 'भ्रष्‍टाचार करने वाले अब कोर्ट का चक्‍कर लगा रहे हैं'
फोटो ANI

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को मणिपुर के इंफाल में जनसभा को संबोधित किया. पीएम मोदी ने हप्ता कांगजीबंग में जनसभा के दौरान आठ परियोजनाओं का उद्घाटन किया और चार अन्य परियोजनाओं की आधारशिला रखी. इस दौरान उन्‍होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले की सरकारों ने पूर्वोत्‍तर को दिल्‍ली से दूर कर दिया. उन्‍होंने कहा कि भ्रष्‍टाचार करने वाले लोग अब कोर्ट का चक्‍कर लगा रहे हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि पिछली सरकार की वजह से पूर्वोत्‍तर की योजनाएं अटकी थीं. हमारी सरकार सिर्फ फीता काटने नॉर्थ ईस्‍ट नहीं आती. मैं अफसरों से रिपोर्ट नहीं लेता, सीधा अफसरों से मिलता हूं. अब अटके, लटके और भटके प्रोजेक्‍ट पूरे होंगे.

'हम दिल्ली को आपके दरवाजे तक ले आए हैं'
उन्‍होंने कहा 'आप सभी साक्षी रहे हैं कि नॉर्थ-ईस्ट के साथ बीते दशकों में पहले की सरकारों ने क्या किया. उनके रवैये ने दिल्ली को आपसे और दूर कर दिया था. पहली बार अटल जी की सरकार के समय, देश के इस अहम क्षेत्र को विकास के रास्ते पर ले जाने की पहल हुई थी. हम दिल्ली को आपके दरवाजे तक ले आए हैं.'

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि जिस मणिपुर को, जिस नॉर्थ ईस्ट को नेताजी ने भारत की आजादी का गेटवे बताया था, उसको अब न्‍यू इंडिया की विकास गाथा का द्वार बनाने में हम जुटे हुए हैं. जहां से देश को आजादी की रोशनी दिखी थी, वहीं से नए भारत की सशक्त तस्वीर आप सभी की आंखों में स्पष्ट दिखाई दे रही है.

'हमारा विजन सबका साथ, सबका विकास है'
पीएम मोदी ने इस दौरान कहा 'हमारा विजन सबका साथ, सबका विकास है. हम इस बात को पुख्‍ता कर रहे हैं कि कोई भी क्षेत्र और व्‍यक्ति विकास से अछूता ना रहे.' उन्‍होंने कहा कि विकास से युक्त, भ्रष्टाचार मुक्त नए भारत के संकल्प के लिए आपका आशीर्वाद मिलता रहे, मिलता रहा है और मिलता रहेगा.


पीएम मोदी ने कई परियोजनाओं की दी सौगात. फोटो ANI

4 साल में 30 बार नॉर्थ ईस्ट आ चुका हूं : पीएम
उन्‍होंने कहा 'मैं खुद बीते साढ़े चार साल में करीब 30 बार नॉर्थ ईस्ट आ चुका हूं. आपसे मिलता हूं, बातें करता हूं तो एक अलग ही सुख मिलता है, अनुभव मिलता है. मुझे अफसर से रिपोर्ट नहीं मांगनी पड़ती, सीधे आप लोगों से मिलती है. ये फर्क है पहले और आज में. ऐसे निरंतर प्रयासों की वजह से अलगाव को हमने लगाव में बदल दिया है. आज इन्हीं कोशिशों की वजह से पूरा नॉर्थ ईस्ट परिवर्तन के एक बड़े दौर से गुजर रहा है.'

पीएम मोदी ने कहा कि 30-40 साल से अटके हुए प्रोजेक्ट्स पूरे किए जा रहे हैं. आपके जीवन को आसान बनाने की कोशिश की जा रही है. आज मणिपुर को 125 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से बने इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट का भी उपहार मिला है. ये सिर्फ एक चेक पोस्ट नहीं है दर्जनों सुविधाओँ का केंद्र भी है.

400 केवी की सिल्चर इम्फाल लाइन सौंपी
पीएम मोदी ने परियोजनाओं का शिलान्‍यास करते हुए कहा 'आज शिक्षा, स्किल और स्पोर्ट्स से जुड़े प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास किया गया है. धन मंजूरी विश्वविद्यालय में इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े प्रोजेक्ट हों, राजकीय इंजीनियरिंग कालेज से जुड़े प्रोजेक्ट हों, ये सभी युवा साथियों को सुविधा देने वाले हैं.' उन्‍होंने कहा 'आज ही 400 केवी की सिल्चर इम्फाल लाइन को भी राष्ट्र को समर्पित किया है. 700 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से बनी ये लाइन पावर कट की समस्या को दूर करेगी.'

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि दोलाईथाबी बराज की फाइल 1987 में चली थी. निर्माण का काम 1992 में 19 करोड़ की लागत से शुरू हुआ था. 2004 में इसको स्पेशल इक्नॉमिक पैकेज का हिस्सा बनाया गया, लेकिन फिर लटक गया. 2014 में इस प्रोजेक्ट पर काम शुरु हुआ और ये प्रोजेक्ट 500 करोड़ रुपए खर्च करने के बाद अब बनकर तैयार है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज जिन परियोजनाओं का उद्घटान किया, उनमें टेंगनौपाल जिले के मोरेह में चेकपोस्ट, इंफाल पूर्वी जिले में डोलाइथाबी बैराज परियोजना, एफसीआई खाद्य भंडार गोदाम, उखरुल जिले में बफर जलाशय आदि शामिल हैं.