close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'वायु': गुजरात के तटीय इलाकों में तेज हवाएं चलना शुरू, तट के पास से गुजरेगा तूफान

चक्रवातीय तूफान वायु ने गुजरात के तटीय इलाकों पास दस्‍तक देना शुरू कर दी है. हालांकि यह तूफान तटीय इलाकों के पास से गुजरेगा.

अंतिम अपडेट: गुरुवार जून 13, 2019 - 12:12 PM IST
गुजरात के वलसाड के तटीय इलाकों में तेज हवाएं शुरू. फोटो ANI

नई दिल्‍ली: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार अरब सागर की ओर से उठा चक्रवाती तूफान 'वायु' गुरुवार को गुजरात का रुख कर रहा है. हालांकि इसके गुजरात से पूर्णरूप से टकराने की खबरों से इतर वैज्ञानिकों का कहना है कि यह गुजरात के तटीय इलाकों के पास से होकर गुजर जाएगा. इसका असर तटीय इलाकों मेंं दिखने लगा है. यहांं तेज हवाएं चलना शुुुरू हो गई हैं.

13 जून 2019, 12:12 बजे

मुंबई में हवा की रफ्तार कम हो गई है. लेकिन मौसम विभाग ने अपना अलर्ट जारी रखा है. हालांकि ऐतियातन के तौर पर मुंबई के समुद्र तट पर जाने के लिए अब भी मना किया जा रहा है. गुजरात तट पर बढ़ने वाला वायु चक्रवात अब थम गया है. जिसका मुंबई पर दिखने वाला असर अब कम होता नजर आ रहा है.

13 जून 2019, 11:59 बजे

गुजरात के अतिरिक्‍त प्रमुख सचिव पंकज कुमार ने कहा है कि वायु चक्रवात के कारण अब त‍क किसी भी व्‍यक्ति की मौत नहीं हुई है. उनके मुताबिक पिछले 2 दिनों में हुई 6 लोगों की मौत चक्रवात वायु के कारण नहीं हुई है. ये मौतें मानसून के कारण हुई हैं.

13 जून 2019, 11:14 बजे

वायु चक्रवात के खतरे को लेकर गुजरात के बंदरगाहों और हवाईअड्डों पर परिचालन तथा बस और ट्रेन सेवाएं स्थगित कर दी गई हैं. तटरक्षक बल, सेना, नौसेना, वायुसेना और सीमा सुरक्षाबल हाई अलर्ट पर हैं. तटीय जिलों में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की लगभग 52 टीम और सेना की 11 टुकड़ी (प्रत्येक टुकड़ी में करीब 70 सैनिक) तैनात की गई हैं. इसके अलावा सेना की 24 टुकड़ी किसी भी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए रिजर्व रखी गई हैं.

13 जून 2019, 11:11 बजे

13 जून 2019, 11:10 बजे

मौसम विभाग की अतिरिक्त महानिदेशक मनोरमा मोहंती ने अहमदाबाद में पत्रकारों से कहा कि चक्रवात की दिशा ‘‘मामूली सी’’ बदल गई है. उन्होंने कहा, ‘‘अत्यंत भीषण चक्रवात ‘वायु’ सौराष्ट्र तट पर नहीं टकराएगा, लेकिन यह तट के किनारे से गुजरेगा और गिर सोमनाथ, जूनागढ़, पोरबंदर, देवभूमि द्वारका जिलों तथा केंद्र शासित क्षेत्र दीव को प्रभावित करेगा.’’ मोहंती ने कहा, ‘‘चक्रवात का आंतरिक हिस्सा गुजरात में प्रवेश नहीं करेगा, लेकिन आधा चक्रवात, इसकी बाहरी परिधि राज्य में प्रवेश करेगी और तटीय क्षेत्रों को प्रभावित करेगी.’’ 

13 जून 2019, 11:09 बजे

मौसम विज्ञान विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक देवेंद्र प्रधान ने बताया कि चक्रवात समुद्र में रहेगा और गुजरात तट के किनारे-किनारे गुजरेगा. प्रधान ने कहा, ‘‘इसने थोड़ा सा पश्चिम की तरफ रुख कर लिया है. यह गुजरात तट के किनारे-किनारे गुजरेगा.’’ पहले ऐसा पूर्वानुमान था कि चक्रवात गुरुवार को दोपहर तक गुजरात तट से टकराएगा.

13 जून 2019, 11:08 बजे

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम राजीवन ने जानकारी दी कि वायु चक्रवात के तट से टकराने की संभावना नहीं है. यह केवल तट के किनारे से गुजरेगा. इसके मार्ग में हल्का बदलाव आया है. लेकिन, इसका प्रभाव वहां होगा, तेज हवाएं चलेंगी और भारी बारिश होगी.

13 जून 2019, 11:03 बजे

मौसम विभाग ने गुरुवार को बताया कि चक्रवात ‘वायु’ ने अपना रास्ता बदल लिया है और अब इसके गुजरात तट से टकराने की संभावना नहीं है, लेकिन इसके प्रभाव के चलते राज्य के कई तटीय जिलों में भारी बारिश होगी. गुजरात सरकार ने तटीय जिलों में निचले इलाकों और कच्चे मकानों में रह रहे तीन लाख से अधिक लोगों को एहतियात के तौर पर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है.

13 जून 2019, 10:24 बजे

गुजरात में चक्रवात वायु के संभावित खतरे को देखते हुए पोरबंदर में राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन बल (एनडीआरएफ) के जवानों को तैनात किया गया है. पारबंदर के चौपाटी बीच पर करीब 30-30 सदस्‍यों की 6 टीमें तैनात की गई हैं.


एनडीआरएफ की टीमें तैनात. फोटो ANI

13 जून 2019, 09:31 बजे

अहमदाबाद स्थित भारतीय मौसम विज्ञान विभाग केंद्र की वैज्ञानिक मनोरमा मोहंती के अनुसार चक्रवाती तूफान वायु के कारण गुजरात के सौराष्‍ट्र के तटीय इलाकों में आज दोपहर में बारिश होगी.


अहमदाबाद स्थित भारतीय मौसम विज्ञान विभाग केंद्र की वैज्ञानिक मनोरमा मोहंती. फोटो ANI

साथ ही इस दौरान हवा की रफ्तार 135 से 160 किमी प्रति घंटा रहेगी. इसका सीधा असर दियू, गिर सोमनाथ, जूनागढ़, पोरबंदर और द्वारका पर पड़ेगा.

13 जून 2019, 09:22 बजे

चक्रवाती तूफान वायु की गंभीरता का देखते हुए महाराष्‍ट्र के कोंकण क्षेत्र में स्थित सभी बीचों को आम जनता के लिए बंद कर दिया गया है.


मुंबई के माहिम बीच में गुरुवार सुबह का नजारा. फोटो ANI

मुंबई के माहिम बीच में गुरुवार सुबह तेज हवाओं के कारण ऊंची समुद्री लहरें देखने को मिल रही हैं.

13 जून 2019, 09:15 बजे

चक्रवाती तूफान वायु को लेकर गुजरात के तटीय इलाकों में अलर्ट जारी है.


मंदिर पहुंचे श्रद्धालु. फोटो ANI

इसके बावजूद वेरावल के पास स्थित सोमनाथ मंदिर में गुरुवार सुबह श्रद्धालुओं ने पहुंचकर पूजा-पाठ की.


मंदिर पहुंचे श्रद्धालु. फोटो ANI

इस दौरान उन्‍हें तेज हवाओं और बारिश का सामना भी करना पड़ा. 

13 जून 2019, 09:09 बजे

अहमदाबाद स्थित भारतीय मौसम विज्ञान विभाग केंद्र के वैज्ञानिक मनोरमा मोहंती के अनुसार चक्रवात वायु गुजरात से नहीं टकराएगा. यह वेरावल, पोरबंदर और द्वारका के पास से होकर गुजरेगा. इसका सीधा असर तटीय क्षेत्रों पर दिखेगा. इस दौरान तेज हवाएं चलेंगी और भारी बारिश होगी.