close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर नगर निगम के वार्डों के आरक्षण की निकली लॉटरी, तस्वीर हुई साफ

राजधानी जयपुर में पुनर्गठन के बाद जयपुर नगर निगम क्षेत्र में 150 वार्ड के लिए कलेक्ट्रेट में जिला निर्वाचन अधिकारी जगरूप सिंह यादव की मौजूदगी में लॉटरी निकाली गई.

जयपुर नगर निगम के वार्डों के आरक्षण की निकली लॉटरी, तस्वीर हुई साफ
कलेक्ट्रेट में जिला निर्वाचन अधिकारी जगरूप सिंह यादव की मौजूदगी में लॉटरी निकाली गई.

जयपुर: राजधानी जयपुर (Jaipur) में नवंबर में होने वाले चुनावों को देखते हुए नगर निगम के 150 वार्डों के आरक्षण की लॉटरी निकाल दी गई है. आरक्षण लॉटरी निकलने के बाद अब वार्डों की तस्वीर भी साफ हो गई है. 

राजधानी जयपुर में पुनर्गठन के बाद जयपुर नगर निगम(Jaipur Municiapal Corporation) क्षेत्र में वार्डो की संख्या 91 से बढक़र 150 हो गई. कलेक्ट्रेट में जिला निर्वाचन अधिकारी जगरूप सिंह यादव की मौजूदगी में लॉटरी निकाली गई. लॉटरी(Lottery) की प्रक्रिया के दौरान बीजेपी विधायकों ने काफी हंगामा भी किया.

जयपुर नगर निगम की जयपुर जिला कलेक्ट्रेट में 150 वार्डों की आरक्षण लॉटरी बुधवार को निकाली गई. इस दौरान सबसे पहले अनुसूचित जाति (एससी) व अनुसूचित जनजाति (एसटी) और फिर अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के आरक्षण के लिए लॉटरी निकली. इस दौरान एससी के पहले से निर्धारित 19 वार्डो में से 6 महिला वर्ग के लिए लॉटरी निकाली गई. इसके बाद एसटी के निर्धारित 6 में से 2 महिला वर्ग के लिए लॉटरी निकाली गई. इसके बाद ओबीसी के 32 वार्डो के लिए लॉटरी निकाली और इन 32 में से 11 महिला आरक्षण के लिए पर्ची के जरिए लॉटरी निकाली गई. सबसे आखिरी में सामान्य वर्ग की 93 में से 31 महिला वर्ग की लॉटरी निकली.

वार्डों की तस्वीर हुई साफ
जयपुर नगर निगम के 150 वार्डों में अनुसूचित जाति के लिए 19, अनुसूचित जनजाति के लिए 6, अन्य पिछडा वर्ग के लिए 32 वार्ड रिजर्व और सामान्य वर्ग के लिए 93 वार्ड हैं....इसमें कुल महिला वार्डां की संख्या 50 है जिसमे महिला अनुसूचित जाति 6 वार्ड , महिला अनुसूचित जनजाति 2 वार्ड, महिला अन्य पिछडा वर्ग के 11 और सामान्य महिला वार्डो की संख्या 31 तय की गई है

अनुसूचित जाति (एससी): कुल वार्ड 19
सामान्य: 106, 78, 88, 61, 96, 82, 95, 62, 85, 30, 81, 75, 89
महिला: 1, 18, 84, 113, 117, 137

अनुसूचित जनजाति (एसटी): कुल वार्ड 6
सामान्य: 79, 80, 83, 108
महिला: 74, 76

अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी): कुल वार्ड 32
सामान्य: 03, 10, 25, 26, 37, 40, 43, 44, 58, 68, 71, 100, 112, 115, 124, 128, 129, 136, 138, 144, 147
महिला: 07, 17, 34, 35, 42, 60, 87, 91, 114, 122, 132

सामान्य वर्ग: कुल वार्ड 93
सामान्य : 04, 06, 08, 12, 13, 14, 15, 16, 19, 21, 28, 31, 32, 36, 39, 45, 46, 47, 48, 49, 50, 51, 53, 54, 55, 56, 57, 63, 64, 65, 66, 67, 70, 72, 73, 86, 92, 93, 94, 98, 101, 102, 103, 105, 107, 109, 118, 119, 125, 126, 127, 131, 134, 135, 139, 140, 142, 145, 146, 148, 149, 150

महिला: 02, 05, 09, 11, 20, 22, 23, 24, 27, 29, 33, 38, 41, 52, 59, 69, 77, 90, 97, 99, 104, 110, 111, 116, 120, 121, 123, 130, 133, 141, 143

बहरहाल, आरक्षण लॉटरी के बाद जयपुर नगर निगम के 62 वार्ड ऐसे हैं जिन पर किसी भी वर्ग के महिला और पुरूष चुनाव लड सकते हैं. नगर निगम के वार्डों की लॉटरी निकलने के बाद तस्वीर साफ होने के साथ ही चुनाव लडने वाले नेताओं ने भी जोड-भाग लगाना शुरू कर दिया है. जिन वार्डों में पुरूष दावेदारी जता रहे थे वो अब महिला वर्ग या आरक्षित होने पर उनका पार्षद बनने का सपना टूट गया है.