J & K: कोरोना महामारी को लेकर एलजी की धर्मगुरुओं के साथ अहम बैठक

बैठक के दौरान उपराज्यपाल ने जम्मू-कश्मीर के सभी धर्मगुरुओं का आभार जताया. महामारी का मुकाबला करने के दौरान धार्मिक गुरुओं की भूमिका पर जोर देते हुए कहा कि 'आप लोगों के सहयोग से हालात में काफी हद तक बदलाव लाया जा सकता है. 

J & K: कोरोना महामारी को लेकर एलजी की धर्मगुरुओं के साथ अहम बैठक
कोरोना महामारी को लेकर एलजी ने संवेदनशील बैठक की....

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर के उप राज्यपाल मनोज  सिन्हा ने कोरोना को लेकर जम्मू-कश्मीर के धर्मगुरुओं के साथ SKICC में एक बेहद संवेदनशील बैठक की. महामारी रोकने के लिए जनभागीदारी अभियान के तहत समुदायों के सहयोग को लेकर हुई बैठक में एलजी ने सभी से सेनेटाइजेशन, कोविड मरीजों की निगरानी और आस-पास मौजूद लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए जागरूक करने की अपील की गई.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से संवेदनशील बैठक
विशेष बैठक के दौरान उपराज्यपाल ने जम्मू-कश्मीर के सभी धर्मगुरुओं का आभार जताया. महामारी का मुकाबला करने के दौरान धार्मिक गुरुओं की भूमिका पर जोर देते हुए कहा कि 'आप लोगों के सहयोग से हालात में काफी हद तक बदलाव लाया जा सकता है. क्योंकि महामारी को रोकने के लिए किए जा रहे विशेष उपायों की जानकारी और उनकी अनुपालना सुनिश्चित कराने में आप अहम भूमिका निभा सकते हैं.'

कोरोना रोकने के 4 मंत्र
अपने संबोधन में, उपराज्यपाल ने कोरोना को प्रभावी तरीके से रोकने के लिए चार बिंदुओं पर जोर दिया. उन्होने परीक्षण, स्वास्थ्य प्रणाली की तैयारी, निगरानी और व्यक्तिगत व्यवहार का ध्यान करके बनाई गई रणनीति को ही प्रभावी बताया. नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल का उदाहरण देते हुए सभी को समझाया कि कैसे ये चार स्तंभ कोरना वायरस के खिलाफ जारी युद्ध में प्रभावी हथियार साबित हुए हैं.

इम्यूनिटी बढ़ाने की अपील
एलजी ने संबोधन के दौरान दैनिक शारीरिक व्यायाम, योग अभ्यास , सेहत के लिए गुणकारी भोजन के साथ आयुर्वेदिक और यूनानी दवाओं के इस्तेमाल की सलाह दी.

धर्मगुरुओं  ने दिया आश्वासन
कॉन्फ्रेंस में मौजूद धर्मगुरुओं ने आश्वासन दिया कि महामारी को रोकने के लिए वो एलजी और यूटी प्रशासन को पूरा सहयोग देंगे. इस दौरान सभी ने अपने अपने सुझाव भी दिए. 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.