महाराष्ट्र: पंकजा मुंडे ने दिए बगावत के संकेत, कहा- 8-10 दिन में लूंगी बड़ा फैसला

बीजेपी नेता पंकजा मुंडे ने 12 दिसंबर को समर्थकों की बैठक बुलाई है.

महाराष्ट्र: पंकजा मुंडे ने दिए बगावत के संकेत, कहा- 8-10 दिन में लूंगी बड़ा फैसला
पंकजा मुंडे ने फेसबुक पर कहा कि 8-10 दिन में बड़ा फैसला लूंगी.

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) भारतीय जनता पार्टी (BJP) की नेता पंकजा मुंडे (Pankaja Munde) ने फेसबुक पोस्ट के जरिए बगावत के संकेत दिए हैं. पंकजा ने पिता गोपीनाथ मुंडे की जयंती पर 12 दिसंबर को अपने समर्थकों की एक बैठक बुलाई है. इस दौरान बीजेपी की दिग्गज नेत्री बड़ा फैसला ले सकती हैं. अपनी फेसबुक पोस्ट में पंकजा लिखा, ''चुनाव में हार के बाद समर्थकों ने मुझसे मिलने के लिए कई फोन और संदेश किए, लेकिन राजनीतिक स्थिति के कारण मैं उनसे बात नहीं कर सकी.''

बीजेपी नेत्री ने लिखा, ''8 से 10 दिन बाद मैं आपको समय देने जा रही हूं. इन आठ से दस दिनों के लिए मुझे खुद से थोड़ी बातचीत करने का समय चाहिए. आगे क्या करना है? किस रास्ते से जाना है? हम अपने लोगों को क्या दे सकते हैं? आपकी ताकत क्या है? लोग क्या उम्मीद करते हैं? मैं इस सब पर विचार करते हुए 12 दिसंबर को आपके पास आऊंगी.''

सोशल मीडिया पोस्ट में पंकजा लिखती हैं, "मेरे पास कहने के लिए बहुत कुछ है. मुझे यकीन है कि मेरे सभी सैनिक रैली में भाग लेंगे."

पंकजा अपने पिता स्वर्गीय गोपीनाथ मुंडे की जयंती 12 दिसंबर पर शक्ति प्रदर्शन करने जा रही हैं. इस दौरान वह महाराष्ट्र के अपने समर्थकों को संबोधित करेंगी.

एक मंच पर नजर आए शरद पवार और पंकजा मुंडे, गोपीनाथ मुंडे की प्रतिमा का किया अनावरण

देवेंद्र फडणवीस सरकार में मंत्री रहीं पंकजा मुंडे को विधानसभा चुनाव में अपनी परंपरागत परली सीट से हार का सामना करना पड़ा था. पंकजा को चचेरे भाई धनंजय मुंडे ने करीब 30000 हजार वोटों से करारी शिकस्त दी.   

दरअसल, महाराष्ट्र में सरकार बनाने में नाकाम रहने के बाद बीजेपी आंतरिक विरोध का सामना कर रही है. इससे पहले पूर्व राजस्व मंत्री एकनाथ खडसे भी विधानसभा चुनाव में पार्टी की विफलता और बाद में एनसीपी नेता अजीत पवार के साथ गठबंधन करने पर पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ आवाज उठाई थी.

ये वीडियो भी देखें: