close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र: भीषण बाढ़ की चपेट में सांगली, 30 लोगों से भरी बोट पलटी, 11 लोगों की मौत

सांगली के पलूस तालुका में बोट पलटने से 11 लोगों की मौत हो गई है. जानकारी के मुताबिक, 9 लोगों के शव बराम किए जा चुके हैं. 

महाराष्ट्र: भीषण बाढ़ की चपेट में सांगली, 30 लोगों से भरी बोट पलटी, 11 लोगों की मौत
बाढ़ की चपेट में महाराष्ट्र का सांगली जिला.

सांगली: महाराष्ट्र के कई जिले भीषण बाढ़ की चपेट में हैं. एक तरफ जहां मुंबई में रुक-रुककर बारिश हो रही है वहीं दूसरी तरफ पुणे, नासिक और सांगली जैसे जिले भीषण बाढ़ का सामना कर रहे हैं. एनडीआरएफ की टीमें लगातार राहत और बचाव कार्य में जुटी हई हैं. अब खबर आ रही है कि सांगली के पलूस तालुका में 30 लोगों से भरी बोट पलट गई. हादसे में 11 लोगों की मौत हो गई है. जानकारी के मुताबिक, 9 लोगों के शव बराम किए जा चुके हैं. इनमें 4 महिलाएं, 3 पुरुष और 2 बच्चे शामिल हैं. बाकी दो लोगों की तलाश जारी है.

बोट हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को महाराष्ट्र सरकार की तरफ से पांच-पांच लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया गया है. महाराष्ट्र के सामाजिक न्याय मंत्री सुरेश खाडे ने कहा कि मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए की आर्थिक मदद की जाएगी. उधर, लोगों को बाढ़ से निजाद दिलाने के लिए प्रशासन हरसंभव कोशिश कर रही है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा से बात कर अलमट्टी डैम से 5 लाख क्यूबिक पानी छोड़ने के बारे में चर्चा की. इसपर दोनों की सहमति बन गई है. पानी छोड़े जाने के बाद सांगली के लोगों को बाढ़ से निजाद मिल पाएगी. 

लाइव टीवी देखें

उधर, बाढ़ का पानी सांगली जेल में भी घुस गया. बाढ़ के पानी से जेल में बंद कुल 360 कैदी परेशान हो गए. जेल में लगभग चार से पांच फीट तक पानी भर गया. ऐसे में कैदियों को बचाने के लिए जेल प्रशासन ने नाव बुलाया और उन्हें सुरक्षित जगह पर ले जाने की कवायद शुरू कर दी.

सांगली जेल और उसके आसपास लगभग 4 से 5 फीट तक पानी भरा है. यहां कुल 360 कैदी बंद थे. उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले जाने के लिए जिला प्रशासन से नाव मंगवाई गई. इसी क्रम में मौके का फायदा उठाकर दो कैदी भागने की कोशिश करने लगे. लेकिन मुस्तैद पुलिस और जेल प्रशासन ने कमर भर पानी के बीच कैदी को ढूंढ निकाला.