close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नागपुर में मॉर्निंग वॉक पर जाने वाली महिलाओं पर कौन कर रहा है हमला

दरअसल, 7 दिसंबर को शारदा चौक इलाके में रहने वाली नंदा माणूसमारे और सरिता शुक्ला जब अपने घर के बाहर निकली थी, तभी 25 से 30 साल के एक युवक ने उन पर हमला किया और भाग गया.

नागपुर में मॉर्निंग वॉक पर जाने वाली महिलाओं पर कौन कर रहा है हमला
शहर की पुलिस ने साइको हमलावर का स्‍केच भी जारी किया है.

मुंबई (नरेंद्र बंडाबे): नागपुर के शारदा चौक की महिलाओं ने मॉर्निंग वॉक के लिए जाना छोड़ दिया है. इसके पीछे वजह है कि इन दिनों इस इलाके में एक साइको हमलावर घुम रहा है, जो सुबह मॉर्निंग वॉक पर जाने वाली महिलाओं को टारगेट बनाता है. 7 दिसंबर को इसी हमलावर ने दो महिलाओ को अपना निशाना बनाया. वह उन पर धारदार हथियार से हमला कर भाग गया. पुलिस आसपास के सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है, लेकिन उसे अभी तक सफलता नहीं मिली है. फि‍लहाल यहां महिलाओं में दहशत है. शहर की पुलिस ने उसका स्‍केच भी जारी किया है.

दरअसल, 7 दिसंबर को शारदा चौक इलाके में रहने वाली नंदा माणूसमारे और सरिता शुक्ला जब अपने घर के बाहर निकली थी, तभी 25 से 30 साल के एक युवक ने उन पर हमला किया और भाग गया. घायल स्थिति में दोनों पहले घर पहुंची और बाद में अस्पताल में भर्ती हो गईं. इन दिनों सुबह छह बजे तक अंधेरा होता है. इस अंधेरे का फायदा उठाकर यह युवक हमला करता है. 

ये भी पढ़ें- पांच दिन में फैसला सुनाकर मिसाल बनी नागपुर की ये अदालत, जानिए क्या था मामला

नंदा माणूसमारे ने बताया कि युवक पास की झाडि़यों में ही छिपा था. जैसे ही वह मॉर्निंग वॉक के लिए बाहर निकलीं तो पीछे से आकर उसने नुकीले हथियार से हमला कर दिया. सरिता शुक्ला के साथ ही ऐसे ही हुआ. वह खाना बनाने का काम करती हैं. नंदा के घर से कुछ दूरी पर उसके साथ भी हमलावर ने वही किया. 

हुडकेश्वर थाने के निरीक्षक सत्यवान माने का कहना है कि यह हमलावर साइको दिख रहा है. हमने अपनी छानबीन जारी रखी है. आसपास के इलाके में लगे सीसीटीवी को चैक किया गया है. अभी तक वह हाथ में नहीं आया है, लेकिन जल्द ही हम उसे पकड़ लेंगे 

घटना के बाद दक्षिण नागपुर में पुलिस की गश्‍त बढ़ा दी गई है. सुबह यहां पेट्रोलिंग भी होती है. पुलिस ने महिलाओ को हिदायत दी है कि सुबह अकेले घर से मॉर्निंग वॉक के लिए ना निकलें. उसके बाद ही बाहर निकलें, लेकिन महिलाओ में डर बना है. उन्होनें मॉर्निंग वॉक करना बंद कर दिया है.