क्‍या है शिवसेना का 'अगला प्‍लान'? उद्धव सरकार बनने से उत्‍साहित संजय राउत ने बताया

Maharashtra : राउत ने आगे कहा कि महाराष्ट्र के बाद गोवा है. गोवा के बाद बाहर जाएंगे. एक ऐसा फ्रंट क्रिएट करेंगे, जोकि नॉन बीजेपी होगा.

क्‍या है शिवसेना का 'अगला प्‍लान'? उद्धव सरकार बनने से उत्‍साहित संजय राउत ने बताया
फाइल फोटो

मुंबई : महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में महा विकास अघाड़ी यानि शिवसेना (Shiv Sena)-एनसीपी (NCP)-कांग्रेस (Congress) की गठबंधन सरकार बनने से उत्‍साहित संजय राउत (Sanjay Raut) ने नया बयान दिया है. उन्‍होंने दावा किया है कि अब हम गोवा में भी गठबंधन बना रहे हैं और इससे गोवा में नई राजनीति शुरू हो रही है. उन्‍होंने स्‍पष्‍ट रूप से कहा कि यह नया फ्रंट शिवसेना की मदद से बन रहा है.

संजय राउत ने कहा कि हमारी गोवा के पूर्व उप मुख्‍यमंत्री और पूर्व विधायक से मुलाकात हुई है. हम गोवा में अलायंस कर रहे हैं. गोवा में नई राजनीति शुरू हो रही है. नया फ्रंट शिवसेना की मदद से बन रहा है.

राउत ने आगे कहा कि महाराष्ट्र के बाद गोवा है. गोवा के बाद बाहर जाएंगे. एक ऐसा फ्रंट क्रिएट करेंगे, जोकि नॉन बीजेपी होगा.

उल्‍लेखनीय है कि उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर गुरुवार को शपथ ग्रहण की. उद्धव ने शिवाजी महाराज को नमन करते हुए मराठी भाषा में शपथ ली. वह ठाकरे परिवार से पहले मुख्यमंत्री हैं. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शाम 6.40 बजे उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. उद्धव के बाद कैबिनेट के अन्य मंत्रियों को शपथ दिलाई गई.

विनम्रता दिखाते हुए औपचारिकताओं को पूरा करने के तुरंत बाद, ठाकरे ने मंच के सामने कदम रखा और सम्मान के लिए महाराष्ट्र के लोगों का आभार व्यक्त करते हुए घुटने के बल बैठकर जनता की ओर नतमस्तक हुए. उनके अलावा शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस के दो-दो विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली.

इनमें शिवसेना के एकनाथ शिंदे व सुभाष देसाई, राकांपा के जयंत पाटिल व छगन भुजबल और कांग्रेस के बालासाहेब थोरात व नितिन राउत शामिल हैं.