महाराष्‍ट्र में मुख्‍यमंत्री के नाम फंसा पेंच, शिवसेना MLA चाहते हैं उद्धव बनें, पर वे नहीं चाहते

सूत्रों का कहना है कि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) राज्‍य के मुख्यमंत्री पद के बजाय सत्ता का रिमोट कंट्रोल अपने पास रखना चाहते हैं.

महाराष्‍ट्र में मुख्‍यमंत्री के नाम फंसा पेंच, शिवसेना MLA चाहते हैं उद्धव बनें, पर वे नहीं चाहते
फाइल फोटो...

मुंबई : महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में शिवसेना (Shiv Sena)-एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congress) द्वारा गठबंधन की सरकार बनाने पर मामला फिर फंसता दिख रहा है. सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री के नाम पर पेंच फंस गया है. सूत्रों के अनुसार, एनसीपी और कांग्रेस चाहती है कि शिवसेना से खुद उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बनें, लेकिन उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहते.

सूत्रों का कहना है कि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) राज्‍य के मुख्यमंत्री पद के बजाय सत्ता का रिमोट कंट्रोल अपने पास रखना चाहते हैं. मुख्यमंत्री पद के लिए उद्धव ठाकरे की पसंद सुभाष देसाई और एकनाथ शिंदे हैं, लेकिन एनसीपी-कांग्रेस दोनों के प्रस्तावित उप-मुख्यमंत्रियों ने शिंदे और देसाई के नेतृत्व में काम करने से इंकार किया है. इससे उद्धव ठाकरे के लिए सिरदर्द बढ़ गया और शिवसेना में माथापच्ची जारी है.

महाराष्ट्र: अगले 2 दिन में राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती हैं NCP-शिवसेना-कांग्रेस

सूत्रों के मुताबिक, शिवसेना (Shiv Sena) विधायकों की मातोश्री पर हुई बैठक में उन्‍होंने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) से मुख्यमंत्री बनने की मांग की. लेकिन उद्धव ठाकरे ने अगला सीएम बनने से इनकार कर दिया और कहा कि  उन्होने बालासाहेब ठाकरे को वचन दिया था कि वे मुख्यमंत्री पद पर एक शिवसैनिक को बैठाएंगे, ये कुर्सी उन्होंने अपने लिए नही मांगी है.

हालांकि शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी नेताओं दोपहर 4 बजे बैठक होनी है. इसमें कॉमन मिनिमम प्रोग्राम और सत्ता के समान वितरण के फॉर्मूले पर मुहर लगाई जाएगी. लिहाजा, इससे पहले उद्धव के सामने सीएम पद के लिए अंतिम नाम तय करने का पेंच फंसा हुआ है.