close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र: क्या मुंबई को मिल सकती है पहली महिला पुलिस कमिश्नर?

मुंबई के पुलिस कमिश्नर संजय बर्वे का कार्यकाल 31 अगस्त को समाप्त हो रहा है.

महाराष्ट्र: क्या मुंबई को मिल सकती है पहली महिला पुलिस कमिश्नर?
अगले पुलिस कमिश्नर की दौड़ में राज्य खुफिया आयुक्त रश्मि शुक्ला और भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक परमबीर सिंह सबसे आगे हैं.

मुंबई: देश की आर्थिक राजधानी मुंबई के पुलिस कमिश्नर संजय बर्वे का कार्यकाल 31 अगस्त को समाप्त हो रहा है. बर्वे को अगर सेवा विस्तार नही मिलता है तो अगले पुलिस कमिश्नर की दौड़ में राज्य खुफिया आयुक्त रश्मि शुक्ला और भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक परमबीर सिंह सबसे आगे हैं. अगर रश्मि शुक्ला को मुंबई पुलिस की कमान सौंपी जाती है तो वह इस पद को संभालने वाली पहली महिला होंगी.

वर्तमान पुलिस कमिश्नर को सेवा विस्तार देने का फैसला मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को लेना है. हालांकि बर्वे को सेवा विस्तार मिलेगा या नहीं इसे लेकर अटकलों को दौर जारी है. 

2008 में तत्कालीन डीजीपी पी.एस पसरीचा और मुंबई के पुलिस आयुक्त डी.एन जाधव को तीन महीने का विस्तार दिया गया था. बॉम्बे हाई कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई के दौरान इस पर कड़ी टिप्पणी की थी और इसे सरकार का मनमाना रवैया बताया था. 

एक आईपीएस अधिकारी ने कहा कि हाल ही में चुनाव आयोग ने सभी राज्य सरकारों को अगले छह महीनों में रिटायर होने वाले वाले किसी भी अधिकारी को चुनाव संबंधी ड्यूटी में न लगाने का आदेश दिया हैं. चुनाव आयोग के इस आदेश के रिटायरमेंट के नजदीक पहुंचे अधिकारियों को दूसरी जगहों पर पोस्ट किया गया है. 

अधिकारी ने कहा कि इन सभी जरुरी जानकारियो को मुख्यमंत्री के सामने रखा जाएगा. अधिकारी का कहना है कि कई मामलों मे राज्य के प्रशासनिक विभाग को आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए बड़े अधिकारियो की तैनाती पर चुनाव आयोग की मंजूरी लेनी पड़ सकती है.

1988 बैंच की आईपीएस अधिकारी रश्मि शुक्ला को पुणे में अपने कामों का वजह से काफी वाहवाही मिली थी. रश्मि शुक्ला ने पुणे में महिला सुरक्षा के लिए काफी काम किए थे. रश्मि के साथ मुंबई पुलिस कमिश्नर की दौड़ मे शामिल 1987 बैंच के परमवीर सिंह मुंबई से सटे ठाणे के पुलिस कमिश्नर रहे चुके है उसी दौरान दाउद के भाई इकबाल कास्कर के ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार किया . इसके साथ ही परमवीर सिंह मुंबई एटीएस में भी काम कर चुके हैं.