close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बानसूर में टूटी पेयजल सप्लाई की मेन पाइप लाइन, बर्बाद हुआ हजारों लीटर पानी

लोगों का कहना है की कई दिनों से पाईप लाईन टूटी पड़ी है, जिससे हजारों लीटर पीने का पानी व्यर्थ बह रहा है.

बानसूर में टूटी पेयजल सप्लाई की मेन पाइप लाइन, बर्बाद हुआ हजारों लीटर पानी
पाइप लाइन टूटने की कारण लोगों के घरों में भी पानी की सप्लाई नहीं पंहुच पा रही है.

अलवर: बानसूर कस्बे में पेयजल सप्लाई की मेन पाइप लाइन टूटने से हजारों लीटर पानी व्यर्थ बह रहा है. बेकार बहते पानी से सड़क पर पानी भर गया जिससे आने जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. वहीं, मेन पाइप लाइन टूटने की कारण लोगों के घरों में भी पानी की सप्लाई नहीं पंहुच पा रही है. जिससे लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं. जलदाय विभाग को इस मामले से अवगत करवाया गया लेकिन इसके बावजूद पाइप लाइन को दुरुस्त करने के लिए कोई प्रयास नहीं किया गया. ग्रामीणों का कहना है की बार-बार शिकायत करने पर भी जलदाय विभाग के कर्मचारी कोई एक्शन नहीं लेते.

मेन पाइप लाइन टूटने से इलाके के लोग परेशान हैं. पूरी सड़क पर पानी ही पानी भरा रहता है. वहीं, राहगिरों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. लोगों का कहना है की कई दिनों से पाइप लाइन टूटी पड़ी है, जिससे हजारों लीटर पीने का पानी व्यर्थ बह रहा है. हालात ये हैं की पानी बेकार बहने से पानी लोगों के घरों तक भी नहीं पंहुच पा रहा है जिससे लोगों को अपने रोजाना के सामान्य काम करने में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इलाके के लोग जरुरी काम के लिए पानी की बोतले खरीद कर अपना रोजमर्रा के काम निपटा रहे हैं.

 

पानी की मेन पाइप लाइन टूटने से सड़क पर तो पानी बह ही रहा है. साथ ही क्षेत्र के बड़े इलाके में पानी भी लोगों को नहीं मिल रहा है. लेकिन इसके बाद भी अभी तक जलदाय विभाग की नींद नहीं टूटती नजर आ रही है. लोगों की तरफ से बार बार शिकायत के बाद भी कोई जलदाय विभाग का कर्मचारी या अधिकारी हालात का जायजा लेने नहीं पंहुचा.

जलदाय विभाग की लापरवाही पर लोगों  में रोष व्याप्त है. लोगों का कहना है की हम लंबे वक्त से व्यर्थ बह रहे पानी की शिकायत कर रहे हैं. लेकिन अब तक जलदाय विभाग ने पाइप लाइन को दुरुस्त करने के लि कोई एक्शन नहीं लिया. अगर जल्द ही इसका कोई समाधान जलदाय विभाग ने नहीं निकाला तो वो विरोध प्रदर्शन करके जलदाय विभाग तक अपनी बात पहुंचाएंगे. 

जाहिर हैं ये कोई पहला मामला नहीं है जब बेकार बहते पानी की वजह से लोगों को पानी की समस्या से दो चार होना पड़ रहा है. आए दिन ऐसी शिकायतें सामने आती हैं लेकिन इसके बावजूद जलदाय विभाग इस ओर कोई ध्यान नहीं देता. एक तरफ तो प्रदेश में पानी की पहले ही किल्लत है दुसरी तरफ जलदाय विभाग की इस तरीके की लापरवाही गंभीर सवाल खड़े करती है.