गाजियाबाद में पिता-बेटी की गला रेतकर हत्या, मोहल्ले में फैली दहशत

मारा गया शख्स मूल रूप से बुलंदशहर के गांव जलालपुर का रहने वाला था.

गाजियाबाद में पिता-बेटी की गला रेतकर हत्या, मोहल्ले में फैली दहशत
अब्दुल्लाह और उसकी बेटी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई.

गाजियाबाद: साहिबाबाद थाना क्षेत्र की शहीद नगर कॉलोनी में शुक्रवार की सुबह अचानक उस वक्त अफरातफरी का माहौल हो गया जब स्थानीय लोगों के सामने वहां रह रहे एक पिता और बेटी की हत्या की सनसनीखेज वारदात सामने आई. दोनों की गला रेतकर हत्या की गई है. जैसे ही लोगों को इसकी जानकारी मिली तो भीड़ मौके पर जमा हो गई और इसकी सूचना आनन-फानन में स्थानीय पुलिस को दी गई. सूचना के आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और पूरे मामले की जांच में जुट गई है.

थाना साहिबाबाद इलाके की शहीद नगर कॉलोनी में रहने वाले शख्स ने बताया कि 38 वर्षीय अब्दुल्लाह मूल रूप से जनपद बुलंदशहर के गांव जलालपुर का रहने वाला था. वह पिछले करीब 7 साल से यहीं पर किराए के मकान में अपनी पत्नी, तीन बेटियों और एक बेटे के साथ रह रहा था. फिलहाल घर पर वह खुद और उनकी करीब 8 साल की लड़की मौजूद थे,  जबकि पत्नी मायके गई हुई थी. घर पर मौजूद अब्दुल्लाह और उसकी बेटी  की हत्या की गई है. इनकी लाश आज उनके ही घर में बरामद हुई. इसकी सूचना पुलिस को दी गई. 

उन्होंने बताया कि अब्दुल्लाह का किसी से कोई विवाद भी नहीं था. लेकिन इस वारदात के बाद से हर किसी के जेहन में एक बड़ा सवाल है कि आखिर पिता और पुत्री को किसने और किस लिए मारा है. पूरी कॉलोनी में दहशत का माहौल बना हुआ है. 

उधर, इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए गाजियाबाद के एसएसपी ने बताया कि इसकी जानकारी स्थानीय पुलिस को मिली थी जिसकी सूचना के बाद वह खुद मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया.

उन्होंने बताया कि घर के अंदर अब्दुल्लाह नाम के एक शख्स और उनकी बेटी का शव पुलिस को बरामद हुआ. दोनों के गले पर धारदार हथियार के निशान थे. शुरुआती जांच में अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि आखिर पिता और पुत्री की हत्या किसने और किस लिए की है. फिलहाल दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और इस पूरे मामले की गहनता से जांच की जा रही है.