मराठा आरक्षण : घायल हुए प्रदर्शनकारी की मुंबई के अस्पताल में मौत

बुधवार को कोपर में हुई हिंसा में हुआ था घायल.

मराठा आरक्षण : घायल हुए प्रदर्शनकारी की मुंबई के अस्पताल में मौत
प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई : महाराष्ट्र के नवी मुंबई में मराठा आरक्षण आंदोलन के दौरान घायल हुए प्रदर्शनकारी की मुंबई के सरकारी जेजे अस्पताल में मौत हो गई. अस्पताल के डीन डॉक्टर मुकुंद तायडे ने समाचार एजेंसी को बताया कि बुधवार को कोपर खैराने में हुई हिंसा के दौरान 25 वर्षीय रोहन थोकदार के सिर, हाथों और पैरों में कई जगह चोटें आयी थीं.

तायडे ने बताया की थोकदार को गुरुवार को जेजे अस्पताल लाया गया, जहां उसे आईसीयू में रखा गया था. लेकिन कल उसकी मौत हो गई. सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में आरक्षण की मांग को लेकर मराठा समुदायों की ओर से आहूत बंद में बुधवार को नवी मुंबई के कोपर खैराना और कालम्बोली में हिंसा हुई थी. इस दौरान प्रदर्शनकारियों के पथराव से आठ अधिकारियों सहित करीब 20 पुलिसकर्मी घायल हो गये थे.

हिंसा में पुलिस के 20 वाहनों सहित करीब 150 वाहन क्षतिग्रस्त हुए थे. पुलिस ने बताया कि हिंसक भीड़ के खिलाफ लाठी चार्ज और रबड़ तथा पैलेट गन के इस्तेमाल से नौ लोग घायल हुए हैं. एहतियात के तौर पर नवी मुंबई में कल इंटरनेट सेवा बंद कर दी गयी थी.
(इनपुट भाषा)