close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शहीद कौस्तुभ राणे के सपनों को पूरा करेंगी पत्नी कनिका, सेना में जल्द होंगी शामिल

कनिका का कहना है कि वह अपने बेटे के सामने पति कौस्तुभ का आदर्श रखना चाहती हैं. इसलिए उसने सेना मे शामिल होने का फैसला लिया. 

शहीद कौस्तुभ राणे के सपनों को पूरा करेंगी पत्नी कनिका, सेना में जल्द होंगी शामिल
पिछले साल अगस्त मे कश्मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में कौस्तुभ शहिद हुए थे.

मुंबईः महाराष्ट्र के शहिद मेजर कौस्तुभ राणे की पत्नी कनिका सेना में शामिल होने जा रही हैं. पिछले साल अगस्त मे कश्मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में कौस्तुभ शहिद हुए थे. कनिका ने वरिष्ठ सेना अधिकारी पद के लिए परीक्षा दी थी. जो की वह पास हो गई है. अब कनिका ट्रेनिंग के लिए अक्टुबर में चेन्नई जाने वाली हैं. कनिका का बेटा अब तीन साल का हो गया है. कनिका का कहना है कि वह अपने बेटे के सामने पति कौस्तुभ का आदर्श रखना चाहती हैं. इसलिए उसने सेना मे शामिल होने का फैसला लिया. 

मीरारोड के शीतल नगर में रहने वाले 29 वर्षीय मेजर कौस्तुभ प्रकाश राणे 07 अगस्त 2018 को कश्मीर के गुरेज सेक्टर में आतंकियों का सामना करते हुए शहिद हो गए. कौस्तुभ के साथ ही तीन सिपाही मनदीप सिंह रावत, हमीर सिंह और विक्रम जीत भी शहीद हुए थे. यह सेना की सबसे बड़ी क्षती थी. कौस्तुभ के शहादत के बाद एक साल तक उनकी पत्नी कनिका अपने पति की शौर्य की गाथा आगे बढ़ाना चाहती थीं. 

देखें लाइव टीवी

शहीद औरंगजेब के दोनों छोटे भाई सेना में भर्ती, पिता बोले - मातृभूमि की रक्षा करेंगे

कनिका का कहना है की कौस्तुभ के जाने का दुख तो है, लेकिन इस दुख के साथ जिंदगी नहीं काटी जा सकती. कनिका ने आगे कहा कि कौस्तुभ बड़े मजाकिया और जिंदगी जीने वाले शख्स थे. वह जिंदादिल थे. वह मुझे रोते-बिलखते नहीं देख सकते थे. मैंने यह फैसला किया क्योंकि सेना में शामिल होकर कौस्तुभ का सपना पुरा किया जाए. इसलिये मैंने सेना की परीक्षा दी और पास हो गई. कौस्तुभ 2008 मे सेना मे लेफ्टनंट के पद पर भर्ती हुए. 2011 मे कैप्टन बने और 2018 में मेजर. यानी कौस्तुभ का आर्मी में करियर बडा शानदार था. 

श्रीनगर: शहीद औरंगजेब के अपहरण और हत्या को लेकर तीन सैनिकों से पूछताछ

कनिका ने बताया कि, कौस्तुभ की मेजर पद पर बढोतरी हुई तो उदमपूर में होने वाले सम्मान समारोह मे जाने के लिए वह काफी उत्तेजित थे. लेकिन उसके पहले ही कश्मीर में वह शहिद हो गये. उनका सम्मान लेते हुए मैंने यह बात तय की थी कि, कौस्तुभ जिस तरह देश सेवा के लिए जीना चाहते थे. उसको मुझे पुरा करना है. इसलिए मैं भी आर्मी के कपड़े पहनकर उनेके जैसा ही वीरता भरे काम करना चाहती हूं. 

Martyr Kaustubh Rane wife Kanika Rane will join Indian Army

कनिका ने बताया की मै मेरे बेटे के सामने उसके पिता का आदर्श रखना चाहती हूं. उसे यह पता चले की उसके पिता बड़े ही जांबाज आर्मी अफसर थे. जिसके लिए मेरा आर्मी में जाना जरुरी है. ताकि मेरा बेटा भी इस माहौल में रहे. वह भी अपने पिता के शौर्य और शहादत पर गर्व महसूस करे. बता दें कनिका का बेटा अब तीन साल का हो गया है. अक्टुबर में कनिका ट्रेनिंग के लिए चेन्नई चली जाएंगी. जो की कुछ महिनों तक चलेगी.