close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ADB के प्रतिनिधिमंडल ने अधिकारियों के साथ की बैठक, जयपुर मेट्रो की प्रगति पर भी हुई चर्चा

एशियाई विकास बैंक (Asian Development Bank) के प्रतिनिधिमंडल ने सचिवालय में मुख्य सचिव डीबी गुप्ता एवं अन्य उच्चाधिकारियों के साथ बैठक की.

ADB के प्रतिनिधिमंडल ने अधिकारियों के साथ की बैठक, जयपुर मेट्रो की प्रगति पर भी हुई चर्चा
जयपुर में एडीबी प्रतिनिधिमंडल के साथ आलाधिकारियों की बैठक.

जयपुर: एशियाई विकास बैंक (Asian Development Bank) के प्रतिनिधिमंडल ने सचिवालय में मुख्य सचिव डीबी गुप्ता एवं अन्य उच्चाधिकारियों के साथ राज्य में कृषि उपज मूल्य संवर्धन एवं जयपुर मेट्रो(Jaipur Metro) के द्वितीय चरण की प्रगति के संबंध में चर्चा कर सुझाव दिए. 

एशियाई विकास बैंक के वाइस प्रेसिडेंट दिवाकर गुप्ता के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने विभिन्न देशों में कृषि उत्पादों (Agriculture Products) के उचित मूल्य दिलाने के लिए अपनाए जा रहे मॉडल्स से अवगत कराते हुए अनुभव साझा किए. उन्होंने राजस्थान (Rajasthan) के कृषि परिदृश्य की जानकारी लेकर प्रदेश के अनुकूल मॉडल विकसित करने के संबंध में सुझाव दिए.

कृषि उपज का वाजिब दाम दिलवाने का प्रयास
मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने कहा कि राज्य में राजस्थान कृषि प्रतिस्पर्धात्मक परियोजना के माध्यम से कृषि उपज का वाजिब मूल्य दिलवाने के प्रयास किए जा रहे हैं. किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं. 

मुख्यमंत्री के आर्थिक सलाहकार अरविंद मायाराम ने कहा कि एग्रो प्रोसेसिंग एंड मार्केटिंग के लिए आधारभूत संरचना विकसित करने के साथ काश्तकार को वास्तव में उपज की उचित कीमत दिलवाना ज्यादा महत्वपूर्ण है. 

जयपुर मेट्रो के प्रगति की दी गई जानकारी
नगरीय विकास विभाग के प्रमुख शासन सचिव एवं जयपुर मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के चेयरमैन भास्कर ए सावंत ने जयपुर मेट्रो के द्वितीय चरण की प्रगति की जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन जनवरी, 2020 तक रिवाइज्ड डीपीआर प्रस्तुत कर देगी. उन्होंने बताया कि एडीबी से डॉक्यूमेंट प्राप्त हो गया है. जिसकी स्टडी के बाद एडीबी के साथ आगामी समन्वय के लिए कॉफ्रेंस आयोजित की जाएगी.

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव सुबोध अग्रवाल, निरंजन आर्य, प्रमुख शासन सचिव अभय कुमार, नरेश पाल गंगवार, शासन सचिव डॉ. राजेश शर्मा, उद्यानिकी विभाग के निदेशक वी सरवन कुमार, संयुक्त शासन सचिव अभिमन्यु कुमार सहित अन्य उच्च अधिकारी मौजूद रहे.