close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

वोट बैंक की खातिर कांग्रेस-एनसीपी ने कश्मीर से 370 हटाए जाने का विरोध किया: अमित शाह

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी देश विरोधी नारे लगाने वालों का समर्थन करते हैं. 

वोट बैंक की खातिर कांग्रेस-एनसीपी ने कश्मीर से 370 हटाए जाने का विरोध किया: अमित शाह

सांगली: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 (Maharashtra Assembly Elections 2019) के लिए सांगली में बीजेपी की चुनावी रैली को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन पर जमकर निशाना साधा. अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस और एनसीपी ने वोट बैंक की खातिर जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने का विरोध किया था. गृह मंत्री ने कहा कि हमारे देश में दो विधान, दो संविधान नहीं चल सकते हैं, इसलिए मोदी जी ने अनुच्छेद 370 को कश्मीर से उखाड़कर फेंक दिया है. अमित शाह ने कहा कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से शांति है.

गृहमंत्री ने कहा, 'लोकसभा चुनाव में आपने मोदी जी के झोली में कमल ही कमल डाल दिए और 300 से ज्यादा सीटे मिलीं. मोदी ने प्रस्ताव लाया, धारा 370 और 35ए को उखाड़ फैंकने का प्रस्ताव. लोग 70 साल से राह देख रहे थे कि कोई आए और इसे उखाड़ फेंके. मोदी जी ने इसे हटाकर देश को अखंडित करने का काम किया है. जनता मानती है कि कश्मीर देश का अभिन्न अंग है....

यह भी पढ़ेंः विधानसभा चुनाव: पराग शाह महाराष्ट्र में सबसे अमीर उम्मीदवार, संपत्ति जानकर रह जाएंगे हैरान

....जब मोदी जी ये प्रस्ताव लेकर आए तो कांग्रेस और एनसीपी इसका विरोध कर रहे थे. शरद पवार बताएं कि आप इसके पक्षमें हो या नहीं, इसका विरोध क्यों किया? वोट बैंक की राजनीति के लिए? आपने (पवार साहब) कहा था कि खून की नदिया बह जाएगी. खून की नदियां छोड़िए, एक गोली तक नहीं चली. पूरी दुनिया भारत के साथ इसको लेकर खड़ी है, पाकिस्तान अकेला पड़ गया है.'

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी देश विरोधी नारे लगाने वालों का समर्थन करते हैं. महाराष्ट्र में पूर्ववर्ती कांग्रेस-एनसीपी सरकार पर हमला बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि सांगली की जनता बताए कि पिछले पांच साल में फडणवीस सरकार ने कितने काम किए है और कांग्रेस-एनसीपी जैसी परिवारवादी पार्टियों ने कितने काम किए हैं. उन्होंने कहा कि सांगली की जनता की के सामने दो विकल्प है. एक तरफ मोदी जी है और दूसरी तरफ परिवारवादी पार्टियां हैं.

यह भी पढ़ेंः शिवसेना ने कांग्रेस को बताया थकी हुई पार्टी, सामना में लिखा, 'इसमें युवा कम, बुजुर्ग ज्यादा'

अमित शाह ने कांग्रेस-एनसीपी के नेताओं को चुनौती देते हुए कहा कि इन दोनों पार्टियों के नेताओं से मैं पूछना चाहता हूं कि पिछले 55 सालों में इन्होंने महाराष्ट्र की जनता के लिए क्या किया है? और अगर आप हमारे काम पूछना चाहते हैं तो हमारे युवा मोर्चा का सदस्य ही आपको इतने काम गिना देगा कि आप हैरान रह जाएंगे.