close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोटा के बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने पहुंचे विधायक रामनारायण मीणा

विधायक रामनारायण मीणा ने इटावा क्षेत्र में बिजली और प्रशासन के अधिकारियों के साथ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया.

कोटा के बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने पहुंचे विधायक रामनारायण मीणा
1960 के बाद पहली बार नदियों ने ऐसा विकराल रूप दिखाया है.

कोटा: जिले के इटावा क्षेत्र में इस बार नदियों में आए उफान ने जमकर तबाही मचाई. हजारों बीघा की फसलें पानी से खराब हो गई वहीं दर्जनों मकान धराशाई हो गए. बाढ़ ने कई लोगों को बेघर कर दिया. पीपल्दा विधायक रामनारायण मीणा ने भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का अवलोकन किया और लोगों को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया.

विधायक रामनारायण मीणा ने इटावा क्षेत्र में बिजली और प्रशासन के अधिकारियों के साथ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया. इस दौरान हवा खेड़ली में चम्बल नदी पर लाखेरी से आ रही विघुत लाइन जो पानी मे डूबी उसका निरीक्षण किया और लाइनों के टॉवर ऊंची करने के लिए तकमीना बनाने के निर्देश दिए. 

इसी तरह गेता और इटावा नगर में बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया. इस दौरान उन्होंने अधिकारियों की बैठक ली और बाढ़ से प्रभावित लोगों के सर्वे करने तथा लोगों को हर संभव मदद मिले इसके निर्देश दिए. इसके अलावा विघुत अधिकारियों को सुखनी नदी के यहां टॉवर लगाकर दूसरी ओर से भी लाइन व्यवस्था करने के निर्देश दिए. 

उन्होंने कहा, यह हमारे लिए बहुत विपत्ति का समय है. 1960 के बाद पहली बार नदियों ने ऐसा विकराल रूप दिखाया है. सभी बांध भी ओवरफ्लो हो गए. हजारों बीघा की फसलें जलमग्न हो गई और खराब हो गई. लोग बेघर हो गए. हमारी कोशिश यह है कि प्रभावित लोगों को सरकार की ओर से हर संभव मदद दिलाई जाए.