महाराष्ट्र: राज ठाकरे ने मराठा आरक्षण को लेकर फडणवीस पर बोल हमला

राज ठाकरे ने मुख्यमंत्री पर प्रस्तावित महा भर्ती अभियान में मराठा समुदाय के लिए नौकरियों में आरक्षण के मुद्दे पर समुदाय को ‘गुमराह’ करने का आरोप लगाया.  

महाराष्ट्र: राज ठाकरे ने मराठा आरक्षण को लेकर फडणवीस पर बोल हमला
एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे. (फाइल फोटो)

जालना: महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के प्रमुख राज ठाकरे ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर प्रस्तावित महा भर्ती अभियान में मराठा समुदाय के लिए नौकरियों में आरक्षण के मुद्दे पर समुदाय को ‘गुमराह’ करने का आरोप लगाया.  राज ठाकरे ने कहा, ‘मुख्यमंत्री झूठ बोल रहे हैं. वह यह कहकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं कि बंबई उच्च न्यायालय के समुदाय के लिए आरक्षण को मंजूरी देने पर सरकार बैकलॉग के रूप में मराठा उम्मीदवारों को 72,000 पदों में से 16 प्रतिशत पद आवंटित कर देगी. वह आम लोगों को गुमराह कर रहे हैं.’ एमएनएस प्रमुख अपनी पार्टी का आधार बढ़ाने की कोशिश के तहत इस समय मराठवाड़ा क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं. 

मराठा समुदाय के लोग अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत सरकारी नौकरियों एवं शिक्षा में 16 प्रतिशत आरक्षण की मांग करते रहे हैं. वे अपनी मांग पर जोर देने के लिए पिछले साल से विरोध प्रदर्शन रैलियां करते रहे हैं. मामला इस समय बंबई उच्च न्यायालय में लंबित है. उन्होंने सवाल किया , ‘ सरकारी विभागों में महज दो प्रतिशत नौकरियों का सृजन हुआ है. इतनी कम नौकरियों से आरक्षण की समस्या कैसे सुलझ सकती है. ’

इससे पहले गुरुवार (19 जुलाई) को राज ठाकरे ने आरोप लगाया था कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के साथ छेड़ - छाड़ करके भाजपा पिछले चुनावों में जीत कर आई थी। ठाकरे ने कहा था कि भाजपा के नेतृत्व वाली राजग सरकार 2019 में सत्ता में नहीं लौटेगी क्योंकि यह हर मोर्चे पर ‘ विफल ’ रही है।

राज ठाकरे की मराठवाड़ा यात्रा का मकसद मराठवाड़ा में एमएनएस को मजबूत करना है। पार्टी राज्य में राजनीतिक सत्ता हासिल करने के लिए संघर्ष कर रही है। महाराष्ट्र के 2009 के विधानसभा चुनाव में इस पार्टी का प्रदर्शन अच्छा रहा था लेकिन इसके बाद 2014 में विधानसभा और लोकसभा चुनाव में पार्टी हाशिए पर पहुंच गई। 

 

(इनपुट - भाषा)