close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अलवर में फिर सामने आई मॉब लिंचिंग की घटना, पुलिस ने दर्ज किया मामला

बताया जा रहा है पकड़ा गया मुनफेद हरियाणा का निवासी है. सभी लोग रात में गोतस्कर शाहजहांपुर की पुलिस की नाकेबंदी को तोड़कर भागे थे.

अलवर में फिर सामने आई मॉब लिंचिंग की घटना, पुलिस ने दर्ज किया मामला
पुलिस के मुताबिक आरोपी के खिलाफ पहले भी गो-तस्करी के मामले दर्ज हैं.

अलवर: राजस्थान के अलवर जिले में गो-तस्करी और मॉब लिंचिंग की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है. एक बार फिर अलवर जिले के मुंडावर थानांतर्गत शाहजहांपुर की खुसा की ढाणी में रात में पिकअप में गायों को भरकर गो-तस्करी कर ले जा रही गाड़ी को ग्रामीणों ने रुकवाया. इस दौरान गोतस्करों की गाड़ी पलट जाने की बात भी सामने आ रही है. इस बीच चार गो-तस्कर भागने में सफल हो गए एक ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गया, जिसकी ग्रामीणों ने पिटाई की.

वहीं, सूचना पर पहुंची शाहजहां पुर पुलिस ने युवक को अस्पताल पहुंचाया, जहां उसका इलाज चल रहा है. बताया जा रहा है पकड़ा गया मुनफेद हरियाणा का निवासी है. सभी लोग रात में गोतस्कर शाहजहां पुर की पुलिस की नाकेबंदी को तोड़कर भागे थे. इस दौरान ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गए, तभी देर रात खुसा की ढाणी में लोगों ने इनकी गाड़ी को रुकवाया. तभी गाड़ी पर बैठे सभी लोग भाग गए लेकिन एक युवक लोगों के हाथ लग गया. जिसकी ग्रामीणों ने जमकर पिटाई की.

इसी दौरान रिसी ने पुलिस को सूचना दी तब आनन-फानन में वहां पुलिस पहुंची और युवक को भीड़ से बचाया. हालांकि यह भी सूचना सामने आ रही है कि आरोपी के खिलाफ पहले भी गो-तस्करी के मामले दर्ज हैं. फिलहाल, पुलिस ने गाड़ी में 7 गोवंश को बरामद किया है. पुलिस की मानें तो मामले की जांच की जा रही है. 

गौरलतब है कि, राजस्थान में लगातार कभी बच्चा चोर के नाम पर तो कभी गौ-तस्करी के नाम पर मॉब लिंचिंग की घटनाएं सामने आ रही है. हाला ही में बच्चा चोर के नाम पर प्रदेश के अगल-अगल जगहों पर लोगों ने कई चुवकों औप महिलाओं की पिटाई कर दी है. हालांकि, प्रदेश की सरकार मॉब लिंचिंग को लेकर कभी दिखती रही है लेकिन बावजूद इसके मॉब लिंचिंग की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है. 

बता दें कि राजस्‍थान के अलवर के बहरोड़ में एक अप्रैल 2017 को हरियाणा के जयसिंहपुरा निवासी पहलू खान अपने बेटों और भतीजों के साथ दो गाड़ियों में जयपुर के हटवाड़ा से गायों को लेकर अपने गांव जा रहा था. रास्ते में बहरोड़ में भीड़ ने उन्हें रोककर गो तस्करी के शक में मारपीट की जिसमें पहलू खान गंभीर रूप से घायल हो गया था जिसे निजी अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी.