मनी लॉन्ड्रिंग केस: जेट एयरवेज के पूर्व CEO नरेश गोयल के घर ED का छापा

इससे पहले बुधवार को ईडी ने नरेश गोयल को समन भेजा था.

मनी लॉन्ड्रिंग केस: जेट एयरवेज के पूर्व CEO नरेश गोयल के घर ED का छापा
जेट एयरवेज के पूर्व सीईओ नरेश गोयल (फाइल फोटो)

मुंबई:  जेट एयरवेज (Jet Airways) के पूर्व सीईओ नरेश गोयल (Naresh Goyal) के मुंबई स्थित घर में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने मनी लॉन्ड्रिंग ( Money laundering case) के एक मामले को लेकर छापेमारी की है. इससे पहले बुधवार को ईडी ने नरेश गोयल को समन भेजा था.

गोयल पर आरोप है कि वो अप्रत्यक्ष रूप से विदेश में कई कंपनियों पर नियंत्रण रखते थे, जिसमें से कुछ टैक्स हेवन देशों में हैं. शुरुआती जांच में यह बात भी सामने आई थी कि नरेश गोयल ने टैक्स बचाने के लिए घरेलू और विदेशी कंपनियों के बीच कई संदिग्ध लेन-देन किए और धन को देश से बाहर भेजा.

पिछले साल अगस्त में ईडी ने जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल के आवास की तलाशी ली थी, जिसमें उनकी 19 कंपनियों के विवरण मिले हैं, जिसमें से 5 कंपनियां विदेश में हैं. इससे यह भी पता चला कि संदिग्ध लेनदेन के जरिए धन को विदेश भेजकर गबन किया गया.

ईडी ने दिल्ली और मुंबई में 12 स्थानों पर तलाशी ली थी, जिसमें जेट अधिकारियों के परिसर भी शामिल थे. गोयल और उनके लंबे समय से सहयोगी हसमुख गार्दी के घरों पर छापेमारी की गई.

अधिकारियों का कहना था कि तलाशी के दौरान विदेशी कंपनियों को किए गए भुगतान के दस्तावेजों और डिजिटल साक्ष्यों को कब्जे में लिया गया. अधिकारी ने बताया था कि एजेंसी जेट एयरवेज और गोयल के खिलाफ विभिन्न सूत्रों से प्राप्त शिकायत के आधार पर फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (फेमा) के कथित उल्लंघन की जांच कर रही है.