Zee Rozgar Samachar

Mumbai Power Outage: ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने दिया ये बड़ा बयान

महाराष्ट्र साइबर सेल के सूत्रों के मुताबिक इस मामले में साइबर अटैक की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक मौजूदा चल रही इन्क्वायरी में महाराष्ट्र साइबर सेल सिस्टम ऑडिट भी करवा सकती है. 

Mumbai Power Outage: ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने दिया ये बड़ा बयान
महाराष्ट्र सरकार के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत (फाइल फोटो).
Play

मुंबई: महाराष्ट्र सरकार 12 अक्टूबर को मुंबई समेत कई जगहों पर अचानक से गयी बिजली की वजह तलाशने में जुटी हुई है. मामले में पहले से ही उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए जा चुके हैं. अब महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री का बड़ा बयान आया है. उन्होंने महाराष्ट्र में बिजली संकट के पीछे साइबर अटैक होने का अंदेशा जाताया है.

साइबर सेल कर रही जांच
महाराष्ट्र साइबर सेल के सूत्रों के मुताबिक इस मामले में साइबर अटैक की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक मौजूदा चल रही इन्क्वायरी में महाराष्ट्र साइबर सेल सिस्टम ऑडिट भी करवा सकती है. जून 2020 में लगभग इसी तरह का साइबर अटैक जम्मू एंड कश्मीर के स्टेट पॉवर डेवेलपमेंट डिपार्टमेंट (State Power Development Department) के सर्वर पर भी किया गया था. इस दौरान बेहद अहम डेटा को चुरा लिया गया था.

यह भी पढ़ें: हाथरस केस: सीबीआई ने पीड़िता के 3 भाइयों को भेजा समन, होगी पूछताछ

नितिन राउत का बयान
इसी मामले में अब महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने भी बयान दिया है कि किसी भी तरह के फाउल प्ले की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है. उन्होंने अंदेशा जाताया है कि साइबर अटैक इसकी बड़ी वजह हो सकता है.

क्या है मामला
बता दें कि बीते 12 अक्टूबर ग्रिड फेल होने के कारण मुंबई में कई इलाकों की बत्ती गुल हो गई थी. बिजली आपूर्ति बाधित होने के कारण आवश्यक सेवाओं के लिए चलाई जा रही मुंबई की लाइफलाइन लोकल ट्रेन के पहिए भी थम गए थे. बिजली कटौती के कारण जुहू, अंधेरी, मीरा रोड, नवी मुंबई, ठाणे और पनवेल इलाके सबसे अधिक प्रभावित हुए. कई इलाकों में पेट्रोल पंप, ठाणे के सारे पंपिग स्टेशन बंद हो गए थे. मुंबई यूनिर्विसिटी के केसी कॉलेज की परीक्षा रद्द कर दी गई थी. बॉम्बे हाईकोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सुनवाई रोक दी गई थी. कई घंटों हाहाकार के बाद विद्युत आपूर्ति बहाल कर दी गई थी. विद्युत कटौती का कारण TATA से आने वाली बिजली की आपूर्ति में दिक्कत के कारण बताया गया था.

बता दें कि मुंबई में राज्य सरकार द्वारा संचालित BEST, अडानी इलेक्ट्रिसिटी और टाटा पॉवर सप्लाई सहित कई ऑपरेटर हैं. अडानी बिजली कंपनी ने 500 मेगावाट का बिजली प्लांट शुरू किया है जिसकी सप्लाई मुंबई को की जा रही है. मुंबई को रोजाना 1600 से 1700 मेगावाट बिजली की जरूरत होती है. ऐसे में मुंबई को 1000 से 1100 मोगावाट बिजली की कमी होती है.

VIDEO

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.