close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: ...जब सेल्फी लेने पर भड़का अजगर, मरोड़ी वन अधिकारी की गर्दन

सेल्फी के क्रेज में हटी थोड़ी सी सावधानी के चलते बैकुंठपुर फॉरेस्ट रेंज ऑफिसर संजय दत्ता की जान पर बन आई.

VIDEO: ...जब सेल्फी लेने पर भड़का अजगर, मरोड़ी वन अधिकारी की गर्दन
अजगर की पकड़ से उन्हें छुड़ाने के लिए लोगों को काफी मेहनत करनी पड़ी (फोटो: Video Grab)

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में उस वक्त एक बड़ा हादसा होने से बच गया जब एक गांव से रेस्क्यू किया गया एक अजगर वन अधिकारी के गले को ही कसने की कोशिश करने लगा था. जानकारी के मुताबिक यह घटना उस वक्त घटी जब वह वन अधिकारी अजगर को गांव वालों के कहने पर अपने कंधे पर रखता है और लोग सेल्फी लेना शुरू कर देते हैं. सेल्फी के क्रेज में हटी थोड़ी सी सावधानी के चलते बैकुंठपुर फॉरेस्ट रेंज ऑफिसर संजय दत्ता की जान पर बन आई.

18 फीट लंबा और 40 किलोग्राम वजनी था अजगर

बताया जा रहा है कि 18 फीट लंबा यह अजगर करीब 40 किलोग्राम वजन का था. रेंज अधिकारी संजय दत्ता उसे अपने कंधों पर रखकर तस्वीरें खिंचवा रहे थे तभी अजगर ने उनके गले में लिपटना शुरू कर दिया था. अजगर ने पकड़ इतनी तेज कर दी थी कि वन अधिकारी की सांस रुकने लगी थी. कुछ अनहोनी होती उससे पहले ही वहां मौजूद अन्य अधिकारियों और लोगों ने अजगर को उनके गले से छुड़ा लिया और संजय दत्ता की जान बच गई. हालांकि अजगर की पकड़ से उन्हें छुड़ाने के लिए लोगों को काफी मेहनत करनी पड़ी.

बाद में जंगल में छोड़ दिया गया अजगर
रविवार शाम को रेस्क्यू किए गए उस अजगर को बाद में वन अधिकारियों द्वारा घने जंगलों में छोड़ दिया गया. लेकिन फॉरेस्ट रेंजर संजय दत्ता के साथ हुआ यह हादसा हमें एक सबक दे गया कि खतरनाक सेल्फी लेने का क्रेज थोड़ी सी लापरवाही के चलते कभी-भी जानलेवा बन सकता है. 

संपेरे के साथ भी हो चुका है ऐसा ही हादसा
इसी साल मार्च के महीने में उत्तर प्रदेश से भी ऐसी ही एक खबर आई थी जिसमें एक संपेरे को अजगर के साथ करतब दिखाना भारी पड़ गया था. तमाशा देख रहे लोगों को पहले तो लगा कि यह भी कोई खेल है, लेकिन देखते ही देखते सपेरा बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ा और काफी देर तक नहीं उठा. दरअसल, सपेरे ने अजगर को अपने गले में डाला ही था कि अजगर अपनी पकड़ से सपेरे के गले को कसने लगा. वह काफी प्रयास के बाद भी अजगर की चंगुल से अपने आप को नहीं छुड़ा सका. दूसरी तरफ, वहां इकट्ठे लोग इसे तमाशा समझकर आनंद ले रहे थे और वीडियो बना रहे थे.