NCP नेता छगन भुजबल ने कहा, 'मुझे नहीं लगता अजित पवार अब वापस लौटंगे'

छगन भुजबल ने कहा, 49-50 विधायक हमारे साथ, एक-दो और आ रहे हैं. सभी विधायक एकजुट हैं. 

NCP नेता छगन भुजबल ने कहा, 'मुझे नहीं लगता अजित पवार अब वापस लौटंगे'
महाराष्ट्र के पूर्व उप मुख्यमंत्री और एनसीपी नेता छगन भुजबल (फोटो साभार - ANI)

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और एनसीपी (NCP) नेता छगन भुजबल (Chhagan Bhujbal) ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि अब अजित पवार (Ajit Pawar) वापस आएंगे. उन्होंने कहा, हमने उनसे शनिवार को भी मिलने की कोशिश की लेकिन हम उन्हें समझाने में नाकाम रहे. 

छगन भुजबल ने कहा, 49-50 विधायक हमारे साथ, एक-दो और आ रहे हैं. सभी विधायक एकजुट हैं. एनसीपी-शिवसेना-कांग्रेस सरकार 100 प्रतिशत अपना बहुमत साबित कर देगी. 

इससे पहले एनसीपी की शनिवार शाम को हुई बैठक में अजीत पवार पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए पार्टी ने उन्हें विधायक दल के नेता के पद से हटा दिया है. एनसीपी ने उनके स्थान पर दिलीप वलसे पाटिल को विधायक दल का नया नेता चुना है. 

इससे पहले बीजेपी के साथ सरकार के गठन करने को लेकर पार्टी प्रमुख शरद पवार ने सुबह कहा था, "एनसीपी इसका पूर्ण विरोध करती है. यह पार्टी के खिलाफ उठाया गया कदम है और अजीत पवार ने पार्टी अनुशासन की धज्जियां उड़ा दी हैं."

गौरतलब है कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शनिवार सुबह आठ बजे बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलवाई. एनसीपी प्रमुख शरद पवार के बागी भतीजे अजीत पवार ने भी उनके साथ उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली. एनसीपी ने इसके बाद प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि भाजपा और अजित पवार ने महाराष्ट्र में सरकार भले बना ली है, लेकिन वे बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे.

शरद पवार ने दोपहर में पत्रकारों से बात करते हुए कहा, "पार्टी की बैठक में उपस्थिति के लिए विधायकों के हस्ताक्षर लिए थे. यही सूची अजीत पवार ने राज्यपाल को विधायकों के समर्थन पत्र के रूप में सौंपी है."