close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस नेता प्रफुल्ल पटेल पर लगा गंभीर आरोप, सफाई में कहा- ये झूठ है

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल सीजे हाउस संपत्ति से जुड़े आरोपों पर सफाई दी है.

कांग्रेस नेता प्रफुल्ल पटेल पर लगा गंभीर आरोप, सफाई में कहा- ये झूठ है
.(फाइल फोटो)

मुंबई: कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल सीजे हाउस संपत्ति से जुड़े आरोपों पर सफाई दी है. प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि सभी आरोप झूठे हैं. क्योंकि इस मामले की जांच चल रही है इसलिए उन्होंने जवाब देना ठीक नहीं समझा. प्रफुल्ल पटेल के मुताबिक मामले में अफवाहें फैलाई जा रही हैं. प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि पटेल फैमिली की मिलेनियम डेवलपर्स कंपनी ने मेमन फैमिली से किसी तरह का कोई भी बिजनैस समझौता नहीं किया और ना ही कोई शेयर दिये. एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि, पिछले दो दिनों से न्यूज दिखाई जा रही है. मै चुनाव मे व्यस्त था और जवाब ना दे सका. किसी ने कुछ पेपर्स लीक किया है. वो जांच का विषय है. इसलिए मैंने कमेंट नहीं किया.

सी.जे. हाउस के एक हिस्से मे किसी एक शख्स की तीसरी मंजिल पर एक प्रिमाइजेज है. और हमें नहीं मालूम की कौन है वो जिसका वहां प्रिमाईसेज मे कुछ प्रापर्टी है. सीजे हाउस इमारत और उसपर बनी बिल्डिंग की जमीन 1963 मेँ ग्वालियर फैमिली ने ली थी. इस जगहपर बनी इमारत का 1970 श्री निकेतन नाम था.

इस प्रापर्टी पर 1974 में मेरी पूर्वजों की पटेल फैमिली ने कुछ हिस्सा ले लिया था. 1978 मे कोर्ट रिसीवर बिठा दिया गया था. बिलडिंग मे गैर कानूनन दो कब्जे किए गये थे एम.के. मोहम्मद नामक शख्स ने कब्जा किया था. 1988 केस अदालत मे पहुंचा और प्लाट एफ ने सात लाख अदा कर कानूनी तौर पर मालिकाना हासिल कर लिया.

1990 हाजरा इक्बाल मेमन को बाद मे वो जमीन बेच दी गई थी. 1999 मे मेरे रिश्तेदारों ने हाजरा मेमन के खिलाफ कोर्ट केस किया था. मिलेनियम डेवलपर्स ने किसी तरह का कोई भी मेमन फैमिली से कोई भी बिजनैस समझौता नहीं किया ना कोई शेयर दिये. हाँ बिल्डिंग के रेनेवेशन के लिए हाजरा मेमन से कँसेँट लिया गया था जैसा कि और भी रिहायशी लोगों से लिया गया था.