Breaking News
  • #ImmunityConclaveOnZee : केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि कोरोना की दवा पर शोध जारी है.
  • #ImmunityConclaveOnZee : श्रीपद नाइक ने कहा - 6-7 सप्ताह में शोध पूरा हो जाएगा.
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '8 बजे नाश्ता, 12 बजे दोपहर का खाना, शाम को 8 बजे तक खाना खा लें'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'भगवान ने हमें इंसान बनाकर दुनिया की सबसे बड़ी दौलत दी है'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '6 घंटे की नींद जरूर पूरी करें और उससे ज्यादा सोएं भी नहीं'

महाराष्ट्र, गुजरात में NDRF तैनात, दोपहर 1 बजे मुंबई पहुंचेगा Nisarga तूफान

महाराष्ट्र और गुजरात के अनुरोध पर एनडीआरएफ की अतिरिक्त टीमें भेजी गई हैं.

महाराष्ट्र, गुजरात में NDRF तैनात, दोपहर 1 बजे मुंबई पहुंचेगा Nisarga तूफान
दोपहर ढाई बजे तक मुंबई तट पर पहुंचेगा निसर्ग तूफान

नई दिल्ली: अरब सागर के ऊपर बन रहा चक्रवाती तूफान निसर्ग (Nisarga) महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय जिलों में आज दोपहर तक दस्तक दे सकता है, जिसे देखते हुए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की 39 टीमों को तैनात किया गया है. एनडीआरएफ की 39 टीमों में से 16 गुजरात में, 20 महाराष्ट्र में, दो दमन एवं दीव, और एक दादरा एवं नगर हवेली में तैनात किया गया है. एनडीआरएफ की ज्यादातर टीमें अरब सागर से लगे तटीय जिलों में तैनात हैं.

मौसम विभाग के मुताबिक निसर्ग तूफान 11 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से उत्तर महाराष्ट्र के तट की ओर बढ़ रहा है. अभी ये महाराष्ट्र के अलीबाग से 200 किलोमीटर दूर है और मुंबई से 250 किलोमीटर दूर है. निसर्ग दोपहर 1 बजे के करीब मुंबई तट पर पहुंचेगा.

तटीय इलाकों से लोगों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने और राज्य की एजेंसियों के साथ समन्वय के लिए एनडीआरएफ की 39 टीमें तैनात की गई हैं. मंगलवार से ही जागरूकता अभियान शुरू हो चुका है. एनडीआरएफ की एक टीम में 45 कर्मी होते हैं.

एनडीआरएफ के महानिदेशक एस.एन. प्रधान ने मंगलवार को कहा कि महाराष्ट्र और गुजरात के अनुरोध पर एनडीआरएफ की अतिरिक्त टीमें भेजी गई हैं. एनडीआरएफ ने कुछ टीमों को बिल्कुल तैयार भी रखा हुआ है, जो चरम स्थिति में मदद मुहैया कराएंगी. हालांकि यह कोई गंभीर तूफान नहीं है, फिर भी सभी एहतियात बरते जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- ये मानवता है ही नहीं! गर्भवती हथिनी को खिलाया पटाखों से भरा अनानास और फिर...

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले देश का पूर्वी तट तूफान अम्फान से बुरी तरह प्रभावित हुआ था और अब पश्चिमी तट पर अरब सागर के ऊपर चक्रवात निसर्ग बन रहा है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है कि डिप्रेशन मंगलवार सुबह 5.30 बजे एक गहरे डिप्रेशन में बदल गया.

LIVE TV