close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: धोखाधड़ी के आरोप में बंद नेपाली कैदी सानू कांची की इलाज के दौरान मौत

जयपुर(Jaipur)के सवाई मानसिंह अस्पताल(Sawai Man Singh Hospital)में शुक्रवार को नेपाली महिला कैदी सानू कांची सेगटन की मौत हो गई.

जयपुर: धोखाधड़ी के आरोप में बंद नेपाली कैदी सानू कांची की इलाज के दौरान मौत
नेपाली महिला परह सांगानेर थाने में मुकदमा दर्ज था. (प्रतीकात्मक फोटो)

विष्णु शर्मा, जयपुर: जयपुर(Jaipur)के सवाई मानसिंह अस्पताल (Sawai Man Singh Hospital)में शुक्रवार को नेपाली महिला कैदी सानू कांची सेगटन की मौत हो गई. सानू धोखाधड़ी(Fraud) के आरोप में 10 दिन पहले ही महिला बंदी सुधार गृह लाई गई थी. इधर शाम को शानू के शव के निस्तारण या परिजनों को सुपुर्द करने के लिए गृह विभाग से केंद्रीय गृह मंत्रालय(Ministry of Home)को पत्र लिखा गया .

महिला बंदी सुधार गृह जयपुर की विचाराधीन बंदी शानू कांची सेगटन को आज सुबह 10:25 बजे अचानक तबीयत बिगड़ने पर सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया. इलाज के दौरान करीब 2 घंटे बाद 12:20 बजे सानू ने दम तोड़ दिया. सानू वायरल बुखार और कमर दर्द से पीड़ित थी. सानू का शव सवाई मानसिंह अस्पताल मुर्दाघर में रखवाया गया है. 

सरकार को लिखा गया पत्र
सानू के नेपाल निवासी होने के कारण शव निस्तारण या परिजनों को सुपुर्द करने के लिए राज्य के गृह विभाग में वरिष्ठ उप शासन सचिव भवानी शंकर ने गृह मंत्रालय के विदेशी अनुभाग के उप सचिव मनोज झा को पत्र लिखा.

सांगानेर थाने में मामला था दर्ज
बताया जा रहा है कि मृतक 34 वर्षीय सानू नेपाल के बाराहा हेरोड़ा जिले के रतनपुर निवासी दल बहादुर तवांग की पत्नी थी. सानू के खिलाफ सांगानेर थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज था. धोखाधड़ी के इस मामले में पुलिस ने शानू को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था. जहां से कोर्ट ने 17 सितंबर 2018 को महिला बंदी सुधार गृह में भेज दिया.

गृह मंत्रालय के जवाब का है इंतजार
विदेशी होने के कारण सानू का शव परिजनों को सुपुर्द किया जाना है या फिर उसका निस्तारण जयपुर में ही किया जाएगा .इसके लिए गृह विभाग से गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर मार्गदर्शन मांगा गया है. जब तक गृह मंत्रालय से कोई जवाब नहीं आता तब तक सब सवाई मानसिंह अस्पताल मुर्दाघर में रखा हुआ रहेगा.