पुलवामा हमला: NIA के हत्थे चढ़े आतंकियों की मदद करने वाले बाप-बेटी

इनके घर का इस्तेमाल फिदायीन आदिल अहमद डार का वीडियो बनाने के लिए भी किया गया था जिसे जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा हमले के तुरंत बाद जारी किया था.

पुलवामा हमला: NIA के हत्थे चढ़े आतंकियों की मदद करने वाले बाप-बेटी
पुलवामा हमले में शामिल आतंकियों के मददगार बाप बेटी के नाम तारिक अहमद शाह और इंशा जान है.

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Attack) में एक साल पहले हुए आतंकी हमले की जांच में जुटी राष्टीय जांच एजेंसी (NIA) को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलवामा हमले के फिदायीन आतंकी आदिल डार ने हमले से पहले जिस घर में छुपने का ठिकाना बनाया था उसे जांच एजेंसी ने ढूंढ निकाला है. एनआईए ने इस मामले में पुलवामा हमले में शामिल आतंकियों के मददगार बाप बेटी को भी गिरफ्तार किया है. इनके नाम तारिक अहमद शाह और इंशा जान है. तारिक अहमद दक्षिण कश्मीर में डंपर ड्राइवर का काम करता है.

एनआईए की पूछताछ में आरोपी तारिक अहमद शाह ने खुलासा किया कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा के हकरीपोरा के उसके घर का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए किया गया था. तारिक अहमद ने बताया कि आदिल अहमद डार (फिदायीन) मोहम्मद उमर फारूक (पाकिस्तानी आतंकी, आईईडी बनाने वाला), कामरान (पाक आतंकी), समीर अहमद डार (जैश आतंकी पुलवामा) और मोहम्मद इस्माइल (पाक आतंकी) को पनाह दी. उमर फारूक और कामरान को भारतीय सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ में मार गिराया है.

आरोपी तारिक अहमद शाह ने अपने घर पर सभी आतंकवादियों को शरण देने और सीआरपीएफ के काफिले पर जघन्य हमले की योजना बनाने के लिए पनाह दी. तारिक के घर का इस्तेमाल फिदायीन आदिल अहमद डार का वीडियो बनाने के लिए भी किया गया था जिसे जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा हमले के तुरंत बाद जारी किया था.

आरोपी इंशा जान तारिक अहमद शाह की बेटी है, जिसने वर्ष 2018-2019 के दौरान अपने घर पर आतंकवादियों को हर बार 2-4 दिनों के लिए 15 से अधिक मौकों पर रहने के दौरान भोजन और अन्य रसद प्रदान करने की सुविधा दी. 

यह भी पढ़ें- पुलवामा आतंकी हमले में एक और गिरफ्तारी, NIA के हत्थे चढ़ा मास्टरमाइंड का मददगार 

शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि इंशा जान मो.उमर फारूक (पाकिस्तानी आतंकी और आईईडी बनाने वाले) के लगातार संपर्क में थी. यह संवाद टेलीफोन और अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से होता रहा. मामले में आगे की जांच जारी है.

जानिये कैसे किया था आदिल ने हमला
14 फरवरी 2019 को पुलवामा में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर CRPF की बस पर हमला हुआ था. दोपहर करीब 3.30 बजे आदिल अहमद डार एक कार में आया और उसने CRPF के काफिले में घुसा दी. जिसके बाद बस से टकरा धमाका हुआ और CRPF के जवानों से भरी बस खाक हो गई. बस के आस-पास जो अन्य वाहन थे उन्हें भी नुकसान पहुंचा. इसी हमले में 40 जवान शहीद हुए.