close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केरल: भारत में आतंक फैलाने की कोशिश मामले में 6 लोगों के खिलाफ आरोप तय

केरल की एक अदालत ने दक्षिण भारत के हिस्सों में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की कोशिश करने के मामले में छह युवकों के खिलाफ आरोप तय किये हैं जो कथित रूप से आईएसआईएस के आतंकवादी हैं. 

केरल: भारत में आतंक फैलाने की कोशिश मामले में 6 लोगों के खिलाफ आरोप तय
जांच एजेंसी ने 2 अक्तूबर, 2016 को आतंकवादी मॉड्यूल के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया था.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: केरल की एक अदालत ने दक्षिण भारत के हिस्सों में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की कोशिश करने के मामले में छह युवकों के खिलाफ आरोप तय किये हैं जो कथित रूप से आईएसआईएस के आतंकवादी हैं. मंगलवार को एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गयी. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बयान में कहा कि एजेंसी ने कुछ युवकों की गतिविधियों के संबंध में सूचना के आधार पर 1 अक्तूबर, 2016 को स्वत: संज्ञान लेते हुए मामला दर्ज किया था. इन युवकों की मंशा प्रतिबंधित आतंकी संगठन के उद्देश्यों को केरल और तमिलनाडु में अंजाम देने की थी.

एनआईए ने कहा कि युवकों ने मिलकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अंसारुल खिलाफा-केएल के नाम से आईएसआईएस आतंकी मॉड्यूल बनाया था और न्यायाधीशों, पुलिस अधिकारियों तथा नेताओं समेत जानेमाने लोगों पर तथा विदेशी नागरिकों पर आतंकी हमलों की तैयारी रची थी.

जांच एजेंसी ने 2 अक्तूबर, 2016 को आतंकवादी मॉड्यूल के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया था.  तब उन्होंने केरल के कन्नूर जिले के कनाकामाला में बैठक का आयोजन किया था. इसके बाद पिछले साल 15 फरवरी को मॉड्यूल के एक और सदस्य को गिरफ्तार किया गया जिसे यूएई से निर्वासित किया गया था.

एनआईए ने कहा कि इस मामले में एनआईए ने 5 अक्तूबर, 2016 को आईएसआईएस सदस्य सुबाहनी हजा मुईदीन उर्फ अबू जास्मीन को भी गिरफ्तार किया था जो अप्रैल 2015 में इराक/सीरिया गया था और आईएसआईएस के लिए लड़ा था. मुईदीन सितंबर 2015 में भारत लौटा और भारत में आईएसआईएस के समर्थन में अपनी गतिविधियां जारी रखीं. 

इनपुट भाषा से भी