निकिता हत्याकांड: महापंचायत के बाद झड़प में शामिल 28 हुड़दंगियों पर पुलिस ने कसा शिकंजा

पुलिस के मुताबिक इन लोगों में से कुछ लोग फरीदाबाद के रहने वाले नहीं है. फिलहाल इन सभी आरोपियों से आगे की पूछताछ की जा रही है.

निकिता हत्याकांड: महापंचायत के बाद झड़प में शामिल 28 हुड़दंगियों पर पुलिस ने कसा शिकंजा
फाइल फोटो।

नई दिल्ली: फरीदाबाद (Faridabad) के बल्लभगढ़ (Ballabgarh) में निकिता तोमर मर्डर (Nikita Tomar Murder Case) मामले को लेकर हुई महापंचायत (Maha Panchayat) की आड़ में दिल्ली-फरीदाबाद हाइवे जाम करने और हिंसा फैलाने के मामले में 28 हुड़दंगियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक इन लोगों में से कुछ लोग फरीदाबाद के रहने वाले नहीं है. 

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, इन सभी आरोपियों से पूछताछ की जा रही है. वहीं इस मामले में अन्य हुड़दंगियों की पहचान करने के लिए सीसीटीवी कैमरे और वायरल मोबाइल वीडियो खंगाले जा रहे हैं. आपको बताते चलें कि आज दिल्ली-फरीदाबाद हाइवे पर हुई पत्थरबाजी में करीब 10 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं.

क्या है पूरा मामला?
बता दें कि 4 दिन पहले मेवात से कांग्रेस के विधायक आफताब अहमद के भतीजे तौसीफ ने अपने साथी रेहान के साथ मिलकर कॉलेज से परीक्षा देकर निकल रही निकिता तोमर का कार में अपहरण करने की कोशिश की. जब वह इसमें नाकाम रहा तो उसने तमंचा निकालकर निकिता को गोली मार दी. घटना में निकिता की मौके पर ही मौत हो गई.

इसके बाद पुलिस ने तौसीफ समेत दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. निकिता के परिवार का कहना है कि तौसीफ अपने बाहुबल का इस्तेमाल कर काफी समय से उनकी बेटी को तंग कर रहा था. उसने पहले भी उसका अपहरण करने की कोशिश की थी. जिसके बाद उसके परिजनों ने शिकायत दर्ज करवाई थी. लेकिन तौसीफ के परिजनों के माफी मांगने पर उन्होंने बाद में शिकायत वापस ले ली थी. 

इस मामले में रविवार को सर्व समाज की महापंचायत का आयोजन किया गया था. बल्लभगढ़ के दशहरा मैदान में बुलाई गई महापंचायत में लव जेहाद के खिलाफ आंदोलन पर चर्चा की जानी थी. इसी बीच महापंचायत में शामिल होने आए कई युवक सड़क पर आ गए और पथराव शुरू कर दिया. अचानक पत्थर चलने से सड़क पर भगदड़ मच गई. कुछ देर बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर उपद्रवी युवकों को वहां से भगाया. पथराव में घायल हुए 10 पुलिसकर्मियों को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. अब पुलिस इस बात का पता लगाने में जुटी है कि पथराव करने वाले कौन थे और उनका इस घटना के पीछे क्या उद्देश्य था. 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.