close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बहुत जल्द रुकेगा पाकिस्तान जाने वाला पानी, मच जाएगा हाहाकार

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने सोमवार को जयपुर के बिरला ऑडिटोरियम (Birla Auditorium) में 'एक राष्ट्र-एक संविधान' विषय पर प्रबुद्धजन सम्मेलन को संबोधित किया.

बहुत जल्द रुकेगा पाकिस्तान जाने वाला पानी, मच जाएगा हाहाकार
जयपुर में कार्यक्रम के दौरान केेंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी.

जयपुर: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने सोमवार को जयपुर के बिरला ऑडिटोरियम (Birla Auditorium) में 'एक राष्ट्र-एक संविधान' विषय पर प्रबुद्धजन सम्मेलन को संबोधित किया.

इस दौरान उन्होंने राष्ट्रवाद (Nationalism) को आत्मा और गुड गवर्नेंस (Good Governance) को सरकार का मिशन बताया. गडकरी ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय (Pandit Deendayal Upadhyay) के विचारों को नीचे तक लागू करना हमारा उद्देश्य है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस औऱ नेहरू की गलतियों को देश ने भुगता है. जिसे पाकिस्तान (Pakistan) ने भारत के विरोध में हथियार बनाया. पंडित जवाहरलाल नेहरू ने कश्मीर की जिम्मेदारी अपने ऊपर ली थी. वही आज तक हमारे लिए परेशानी का कारण बना रहा. 

पाक ने किया आतंकवादियों का निर्यात
गडकरी ने कहा, ''इन कारणों से पाकिस्तान ने हम से लड़ाई लड़ी लेकिन पार नहीं पा सका. इसलिए उसने हमारे यहां आतंकवादियों(Terrorist) का निर्यात किया.''

अनुच्छेद 370 पर रखी अपनी राय
इस दौरान उन्होंने अनुच्छेद 370 (Article 370) को खत्म करने के बाद के हालात पर भी अपनी राय रखी. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 हटाकर सरकार ने 70 साल पुरानी गलती को ठीक करने का काम किया है. उन्होंने कहा कि राज्यसभा(Rajya Sabha) में एनडीए(NDA) के पास बहुमत नहीं है. लेकिन हमारा विरोध करने वाले लोगों ने भी राज्यसभा में इस बिल का समर्थन किया. 

धारा 35 ए पर भी गडकरी ने अपनी राय रखी. उन्होंने कहा कि 35-ए भी 1954 में राष्ट्रपति के आदेश लागू कर दी गई.  इस 35-ए को फ्रॉड धारा भी कहा जाता है. क्योंकि इस पर संसद में कभी बहस हुई ही नहीं.

सारा अब्दूल्ला का किया जिक्र
इस दौरान गडकरी ने फारूख अब्दूल्ला (Farooq Abdullah) की बेटी का ज़िक्र करते हुए कहा कि अब उमर अब्दूल्ला( Omar Abdullah) और सारा पायलट (Sara Pilot) प्रॉपर्टी के बराबर हकदार माने जाएंगे. गडकरी ने कहा कि हमारी सरकार ने इस नजरिए से तो सचिन पायलट का फायदा ही कराया है. 370 और 35-ए हटाने से पहले ऐसा संभव नहीं था.

उन्होंने कहा कि कश्मीर की लड़की को पाकिस्तानी से शादी करने पर तो प्रॉपर्टी का अधिकार था. लेकिन भारत में किसी से भी शादी करने पर इन अधिकारों से वंचित होना पड़ता था. गडकरी ने 370 और 35-ए हटाने को केंद्र सरकार का बड़ा फैसला बताया.

भारतीय संस्कृति नहीं रखता सांप्रदायिक सोच
उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति कभी सांप्रदायिक सोच नहीं रखती. जबकि राष्ट्रवादी सोच वालों को कई बार कम्युनल कहा गया. हम किसी जाति धर्म के खिलाफ नहीं है. सिर्फ वोट बैंक की राजनीति के तुष्टीकरण भी नहीं होना चाहिए. 

उन्होंने कहा, ''सौ बीमारियों का एक ही इलाज था और 370, 35-ए हटाकर एक ही बार में यह इलाज कर दिया गया.'' इस दौरान गडकरी ने कुछ लोगों पर 370 और 35-ए को विवादित रखने की बात भी कही. 

विकास के नए युग की शुरुआत
उन्होंने कहा कि 370 हटने के बाद कई बातें बहुत अच्छी हो रही है. अब अनुसूचित जाति, जनजाति, ओबीसी, आर्थिक पिछड़ों का आरक्षण भी वहां लागू हो सकेगा. जम्मू-कश्मीर में विकास के नए युग की शुरुआत हुई है.कश्मीर की राजनीति पर अपनी राय रखते हुए गडकरी ने कश्मीर में सिर्फ दो परिवारों के आज तक राज करने की बात कही. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि मेरे मंत्रालय की तरफ से जम्मू-कश्मीर में 60 हज़ार करोड़ के काम हो रहे हैं. 

पाक नहीं जाएगा भारतीय नदियों का पानी 
कार्यक्रम के दौरान उन्होंने भारतीय नदियों का पाकिस्तान में पानी जाने के मुद्दे पर कहा, ''भारत के अधिकार की नदियों का पानी पाकिस्तान जा रहा था. लेकिन मेरे जल संसाधन मंत्री रहते संबंधित प्रदेशों के मुख्यमंत्री से बात की. जिसके लिए पंजाब और कश्मीर के बीच में दो एमओयू होने जा रहा था. जिसमें रावी-ब्यास और सतलुज से जुड़े मामले शामिल थे.'' उन्होंने बताया कि अब नदियों पर बांध बनाने को मंजूरी मिल चुकी है. जिससे पाकिस्तान में जाने वाला पानी राजस्थान को मिलेगा. इस दौरान राजस्थान के सिंचाई का हिस्सा अब 55 से 60 फीसदी तक हो जाएगा.